द्विवेदी के ‘जाति आधारित’ बयान पर काग्रेस हुई खफा भड़की सोनिया

  • द्विवेदी के ‘जाति आधारित’ बयान पर काग्रेस हुई खफा भड़की सोनिया
You Are HereNational
Thursday, February 06, 2014-6:26 AM

नई दिल्ली : कांग्रेस नेता जनार्दन द्विवेदी का ‘जाति आधारित आरक्षण खत्म’ करने वाला बयान को लेकर मचे बवाल के बाद पार्टी और सरकार ने उनसे किनारा कर लिया है। कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बयान जारी करते हुए कहा कि ‘आरक्षण की मौजूदा व्यवस्था हर हाल में जारी रहना चाहिए।’ वहीं कांग्रेस अध्यक्ष के इस बयान से पहले कई सियासी दलों के इस बयान की कड़ी निंदा की थी। साथ ही एससी-एसटी फोरम ने भी द्विवेदी के बयान पर आपत्ति जाहिर की थी।

गौरतलब है कि मंगलवार को द्विवेदी ने जाति के आधार पर आरक्षण खत्म करने की मांग करते हुए आर्थिक रूप से कमजोर तबकों के लिए कोटा लागू करने की बात कही थी। जिसके बाद इस बयान पर तीखी प्रतिक्रियाओं का दौर शुरू हो गया था। आरक्षण को अपनी राजनीति का अस्त्र बना चुकी बीएसपी प्रमुख मायावती ने इस बयान पर तीखा वार करते हुए कहा था कि ‘कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता ने कहा है कि रिजर्वेशन जातिगत नहीं होना चाहिए। हम कड़े शब्दों में इस बयान की निंदा करते हैं। यदि इस देश में जातपात नहीं होता तो बाबा साहब अंबेडकर को संघर्ष नहीं करना पड़ता।’

वहीं, आजकल नरेन्द्र मोदी के नाम की मुरली बजाने वाले बाबा रामदेव ने द्विवेदी के बयान को सही बताया है। उन्होंने कहा कि जनार्दन द्विवेदी जी ने पहली बार कुछ अच्छी बात बोली है यही न्यायपूर्ण है। बहुत से दलितों में कुछ लोग करोड़पति बन गए हैं। उनको इसका लाभ नहीं मिलना चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You