इस शख्स में लड़कियां पटाने का ऐसा हुनर, कर बैठा सात शादियां

  • इस शख्स में लड़कियां पटाने का ऐसा हुनर, कर बैठा सात शादियां
You Are HereNational
Thursday, February 06, 2014-5:58 PM

भोपाल: भोपाल में फर्जी शादियां करने वाले एक ऐसे शख्स की असलियत सामने आई है, जिसने अभी तक सात शादियां की है और आठवीं शादी करने की फिराक में था। परंतु इस शख्स की सातवीं बीवी ने उसकी पोल खोल दी और पुलिस में उसकी शिकायत पुलिस में कर दी। महिला की शिकायत पर पुलिस ने व्यक्ति पर दहेज प्रताडऩा का मामला कर आरोपी की तलाश शुरू कर दी। जानकारी के मुताबिक, शह्जाद अली नाम के इस शख्स अली ने अभी तक सात शादियां की है और आठवी शादी करने की फिराक में था।

हैरानी की बात यह है कि अपनी सात शादियों में अली ने जिस संस्था से अपना मैरिज सर्टीफिकेट लिए थे, वह सब फर्जी थे। क्यूंकि इन संस्थाओं के पास तो शादी का सर्टीफिकेट देने का अधिकार ही नहीं था। पुलिस में अपने पति की शिकायत करने वाली 23 साल की युवती भोपाल के फरहत-अब्जा की रहने वाली है। जीनत ने पुलिस को बताया कि शह्जाद अली को लड़कियां पटाने का हुनर खूब आता था। वह हिंदू लड़की को पटाने के लिए कलाई पर धागा बांधकर मंदिर के सामने खड़ा हो जाता और मंदिर में जाकर घंटियां बजाता। इतना ही नहीं, वह हिंदू लड़कियों को अपना नाम राज बताता था। जबकि मुस्लिम लड़की को फंसाने के लिए वह मुस्लिम बनकर धार्मिक बातें करता। अली लड़कियों को तोहफे देकर उनकी पसंद की जगहों पर घुमाकर उन्हें शादी के लिए तैयार कर लेता था। परंतु अली की एक खास बात थी कि वह कभी भी किसी लड़की या अपनी पत्नी के साथ फोटो नहीं खिंचवाता। परंतु अली का यह झूठ और फरेब का खेल आखिर कब तक चलता। वो कहते है न कि सच्चाई कभी न कभी तो सामने आती ही है, बस वही अली के साथ हुआ।

अली की पत्नी जीनत ने बताया कि उसे शादी के बाद एक फाइल मिली, जो अली हमेशा उससे छिपाकर रखता था। इस फाइल को देखकर जीनत अपना आपा खो बैठी। इसके बाद अली ने उसे सच्चाई बताई कि वह पहले भी 6 शादियां कर चुका है, जिनमें से तीन लड़कियों की उसने हत्या कर दी। अली ने बताया कि वह पैसे के लिए लड़कियों को मारता-पीटता था। जीनत का कहना है कि उसने भी अली के झांसे में आकर अपनी जिंदगी तबाह कर ली। अब जीनत की शिकायत के बाद पुलिस ने आरोपी के घर पर छापा मारा। परंतु आरोपी अली घर से फरार है और उसके घर पर भी ताला लगा हुआ है। पति से मिले इस धोखे के बाद अब जीनत को बस इंसाफ मिलने का इंतजार है।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You