हरियाणा में सत्तर फीसदी बच्चों में खून की कमी

  • हरियाणा में सत्तर फीसदी बच्चों में खून की कमी
You Are HereHaryana
Thursday, February 06, 2014-7:49 PM

चंडीगढ : हरियाणा में  सत्तर फीसदी बच्चों में खून की कमी हैं तथा 40 से 50 प्रतिशत बच्चे कुपोषण के शिकार हैं। स्वास्थ्य विभाग की प्रधान सचिव नवराज संधू ने आज यहां बताया कि कुपोषण एवं खून की कमी को दूर करने के लिए कई कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं तथा बच्चों को राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य योजना के अंतर्गत आयरन एवं फोलिक एसिड की गोलियां दी जा रही हैं। उन्होंने कहा कि लोगों के दैनिक आहार की खाद्य वस्तुओं में सुधार करके कुपोषण तथा खून की कमी की समस्या से निपटने के लिए व्यापक रणनीति बनाई जायेगी।

उन्होंने कहा कि खाद्य पदार्थों में पोषक तत्वों की मात्रा बढ़ाने पर बल दिया जायेगा। इस बारे में एक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इसका आयोजन राज्य ग्रामीण स्वास्थ्य मिशन तथा ग्लोबल एलायंस फार इम्प्रूवमेंट न्यूट्रिशन(गैन) के संयुक्त तत्वावधान में किया गया था।

कार्यशाला में फूड फोॢटफिकेशन आफ इंडिया, प्राथमिक शिक्षा विभाग के राज्य कार्यक्रम अधिकारी, महिला एवं बाल विकास विभाग,गैर सरकारी संगठनों, खाद्य सुरक्षा अधिकारियों, स्वास्थ्य विभाग के राज्य कार्यक्रम अधिकारियों के अलावा पीजीआई, चंडीगढ़ के प्रतिनिधियों एवं विशेषज्ञों ने भी हिस्सा लिया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You