अगले हफ्ते से छा सकता है अंधेरा

  • अगले हफ्ते से छा सकता है अंधेरा
You Are HereNational
Friday, February 07, 2014-12:08 AM
नई दिल्ली (रोहित राय): अगले सप्ताह से आधी से ज्यादा दिल्ली अंधेरे में डूब सकती है। करीब 35 फीसदी दिल्ली में बिजली सप्लाई करने वाली बी.एस.ई.एस. यमुना पॉवर लिमिटेड (बी.वाई.पी.एल.) ने नैशनल थर्मल पॉवर कॉरपोरेशन (एन.टी.पी.सी.) को उसकी बकाया राशि चुकाने पर हाथ खड़े कर दिए हैं।
 
इसके अलावा बी.वाई.पी.एल. को बकाया पैसे चुकाने का नोटिस जारी करने के बाद अब एन.टी.पी.सी. ने बी.एस.ई.एस. राजधानी पॉवर लिमिटेड (बी.आर.पी.एल.) को भी बकाया राशि चुकाने का नोटिस जारी कर दिया है। बी.एस.ई.एस. की बी.वाई.पी.एल. और बी.आर.पी.एल. 70 प्रतिशत दिल्ली में बिजली का वितरण करते हैं। एन.टी.पी.सी. ने बी.आर.पी.एल. को जारी किए नोटिस में कहा है कि यदि 11 फरवरी तक कंपनी ने बकाया राशि का भुगतान नहीं किया तो उसे भी बिजली देनी बंद कर दी जाएगी। बी.वाई.पी.एल. को एन.टी.पी.सी. को 96 करोड़ रुपए का भुगतान करना है। 
 
उधर बी.आर.पी.एल. को कुल 271.61 करोड़ रुपए का लेटर ऑफ क्रेडिट (साख पत्र) एन.टी.पी.सी. के पास जमा करना है जो अब तक बकाया है। इस मामले में बी.आर.पी.एल. का कहना है कि अब तक साख पत्र जमा करने के लिए एन.टी.पी.सी. से 30 दिन का समय मिलता था लेकिन इस बार सिर्फ 7 दिन का ही समय दिया गया है। बी.आर.पी.एल. ने एन.टी.पी.सी. से अनुरोध किया है कि वह पिछले डेढ़ साल से चली आ रही निर्धारित प्रक्रिया को माने और उसे 30 दिन का वक्त दिया जाए। बी.एस.ई.एस. अब इस मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट की शरण में पहुंच गई है और शुक्रवार को कोर्ट में सुनवाई  होनी है। 
 
बी.वाई.पी.एल. यमुना पार के सभी इलाकों और मध्य दिल्ली के कुछ चुनिंदा इलाकों में बिजली सप्लाई करता है। बी.आर.पी.एल. दक्षिण दिल्ली, पश्चिम दिल्ली, दक्षिण-पश्चिम दिल्ली सहित कुछ और इलाकों में बिजली का वितरण   करता है। 
 
अगर 10 फरवरी तक दोनों कंपनियां एन.टी.पी.सी. को बकाया राशि का भुगतान नहीं कर पाती हैं तो आधी से ज्यादा दिल्ली में भयंकर बिजली संकट पैदा हो सकता है। एन.टी.पी.सी. से बी.वाई.पी.एल. को 811 मेगावॉट और बी.आर.पी.एल. को 1261 मेगावॉट बिजली मिलती है। उधर बी.वाई.पी.एल. ने दिल्ली सरकार के ऊर्जा विभाग को एक पत्र लिखकर पहले ही बता दिया है कि उसके पास भविष्य में बिजली खरीदने के पैसे नहीं है। कंपनी यमुनापार के इलाकों में 24 घंटे बिजली सप्लाई नहीं कर सकती। 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You