1984 दंगों के मुद्दे पर लोकसभा में हंगामा, 10 फरवरी तक स्थगित

  • 1984 दंगों के मुद्दे पर लोकसभा में हंगामा, 10 फरवरी तक स्थगित
You Are HereNational
Friday, February 07, 2014-12:28 PM

नई दिल्ली: तेलंगाना और 1984 के सिख विरोधी दंगों के मुद्दे पर सदस्यों के भारी शोर शराबे के कारण लोकसभा की कार्यवाही शुरू होने के कुछ ही देर बाद सोमवार 10 फरवरी तक स्थगित कर दी गई। आज सुबह सदन की कार्यवाही शुरू होते ही सीमांध्र क्षेत्र के कांग्रेस, तेदेपा और जगनमोहन रेड्डी के नेतृत्व में वाईएसआर कांग्रेस के सदस्य एकीकृत आंध्रप्रदेश की मांग करते हुए अध्यक्ष के आसन के समीप आ गए। उनके हाथों में तख्तियां थी जिस पर लिखा था, ‘‘आंध्रप्रदेश को एकजुट रखें।’’  सीमांध्र क्षेत्र के सदस्य ‘जय सम्यक आंध्रा’ का नारा लगाते हुए लोकतंत्र को बचाने की मांग कर रहे थे।

इसके साथ ही अकाली दल के सदस्यों ने अपने स्थान से 1984 के सिख विरोधी दंगों का मुद्दा उठाया। उनके हाथों में तख्तियों थीं जिनपर मामले में तेजी से कार्रवाई सुनिश्चित करने की मांग की गई थी। सपा सदस्य भी आसन के समीप आकर कुछ कह रहे थे लेकिन हंगामे में उनकी बात नहीं सुनी जा सकी। अध्यक्ष ने सदस्यों से शांत रहने और प्रश्नकाल चलने देने की अपील की और एक प्रश्न को भी लिया। पर सदस्यों का हंगामा जारी रहा। शोरशराबा थमता नहीं देख अध्यक्ष ने कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक के लिए स्थगित की दी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You