क्या एम्स पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट देना नहीं चाहता: हाई कोर्ट

  • क्या एम्स पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट देना नहीं चाहता: हाई कोर्ट
You Are HereNational
Friday, February 07, 2014-2:45 PM

नई दिल्ली: अरुणाचल प्रदेश के छात्र नीडो तानियाम की मौत के मामले में हाई कोर्ट ने एम्स और सरकार के रवैये पर सवाल उठाया है। जब अदालत ने इस मामले में पुलिस से देरी की वहज जाननी चाही, तो पुलिस का कहना था कि नीडो की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट अब तक नहीं मिली है। इस पर अदालत का कहना था कि क्या वजह है कि नीडो की पोस्टमॉर्टम रिर्पोर्ट अब तक पेश नहीं की गई है। क्या एम्स पोस्टमॉर्टम की रिपोर्ट देना नहीं चाहता है। आज सुनवाई के दौरान हाई कोर्ट ने एम्स के काउंसल को पेश होने के लिए कहा है।

नीडो की मौत के बाद उत्तर-पूर्व के छात्रों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के मामले में केंद्र सरकार ने हाई कोर्ट को बताया है कि घटना के बाद उत्तर-पूर्व के छात्रों की सुरक्षा को सुनिश्चित करने के लिए एक उच्च स्तरीय बैठक रखी गई थी। दिल्ली पुलिस ने अदालत को बताया कि इस बाबत एक नोडल ऑफिसर रॉबिन हिबू को भी नियुक्त किया गया है। वहीं नीडो के मौत की जांच के मामले में पुलिस का कहना था कि वह अब तक पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है और इसके लिए एम्स पर निर्भर है।


 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You