असीमानंद के दावों की सीबीआई जांच हो: माकपा

  • असीमानंद के दावों की सीबीआई जांच हो: माकपा
You Are HereNational
Friday, February 07, 2014-3:48 PM

नई दिल्ली: माकपा नेता बासुदेब आचार्य ने समझौता एक्सप्रेस विस्फोट और विस्फोट के अन्य मामलों के आरोपी स्वामी असीमानंद के दावों की सीबीआई जांच कराने की मांग की है। असीमानंद का आरोप है कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ ने इन आतंकी हमलों को अंजाम देने की अनुमति दी थी।

असीमानंद द्वारा एक पत्रिका को दिए गए इंटरव्यू पर मचे बवाल के बीच आचार्य ने आज कहा कि सरकार को आगे बढऩा चाहिए और पूरे मामले की भलीभांति जांच करानी चाहिए। उन्होंने कहा, ‘‘हम काफी समय से कहते आए हैं। अब असीमानंद की टिप्पणी के बाद साक्ष्य सामने है। उसके आधार पर सरकार को आगे बढकर सीबीआई जांच करानी चाहिए।’’

आचार्य ने संसद परिसर में संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम हमेशा से अजमेर विस्फोट जैसी घटनाओं में हिन्दू कटटरपंथियों की भूमिका की आशंका की बात करते आए हैं। सीबीआई जांच के बाद ही सच्चाई सामने आएगी।’’

संघ प्रवक्ता राम माधव ने असीमानंद के इंटरव्यू को कुचक्र करार दिया। असीमानंद ने दावा किया है कि संघ नेतृत्व ने हिन्दू आतंकी साजिश की मंजूरी दी थी, जिनमें समझौता एक्सप्रेस विस्फोट, मक्का मस्जिद और अजमेर शरीफ विस्फोट शामिल हैं।

कांग्रेस और बसपा सहित अन्य दलों ने इसे गंभीर मसला मानते हुए मांग की कि जांच के आदेश होने चाहिए और दोषियों के खिलाफ कार्रवाई होनी चाहिए। उधर भाजपा और उसकी सहयोगी शिवसेना ने असीमानंद के संघ के खिलाफ आरोपों को नकारते हुए कहा है कि ये निराधार आरोप हैं। उन्होंने ‘डर्टी ट्रिक्स डिपार्टमेंट’ को दोषी ठहराते हुए कहा कि वह चुनावों से पहले जनता का ध्यान असल मुददों से हटा रहा है। असीमानंद से जुडी खबरों को खारिज करते हुए संघ के विचारक एम जी वैद्य ने कहा कि कांग्रेस को इस झूठे दुष्प्रचार से फायदा नहीं मिल पाएगा।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You