पंचायतों में शुरू होंगी ई-पंचायत जन सुविधाएं

  • पंचायतों में शुरू होंगी ई-पंचायत जन सुविधाएं
You Are HereMadhya Pradesh
Friday, February 07, 2014-3:55 PM

भोपाल: मध्यप्रदेश में ई-पंचायत कार्यक्रम के तहत की सभी 23 हजार 6 ग्राम-पंचायतों को ई-पंचायत में परिवर्तित किया जा रहा है। जिन ग्राम-पंचायत में पंचायत भवन बने हुए हैं वहां पंच-परमेश्वर योजना परफार्मेंस गारंटी स्व-कराधान योजना एकीकृत विकास कार्यक्रम बीआरजीएफ और आरजीएफ आदि योजनाओं में ई-पंचायत कक्ष का निर्माण किया जा रहा है। आधिकारिक जानकारी केमुतबिक  ई-पंचायत कक्ष में ही अति-लघु बैंक (अल्ट्रा स्मॉल बैंक) भी स्थापित किये जा रहे हैं।

ग्राम-पंचायत भवन कार्यालय में स्थापित ई-पंचायत कक्ष से ग्रामीणों को जाति एवं आय प्रमाण-पत्र सरा नक्शा इत्यादि जन-सुविधाएँ कार्यालयीन समय में प्रदाय की जायेंगी। इसके अलावा यहां स्थापित अल्ट्रा स्मॉल बैंक से मनरेगा मजदूरी का भुगतान सामाजिक सुरक्षा कार्यक्रमों में मिलने वाली पेंशन और सहायता राशि  विद्यालयों की छात्रवृत्ति तथा जननी सुरक्षा योजना में मिलने वाली राशि का त्वरित भुगतान हितग्राहियों को हो सकेगा।

ई-पंचायत व्यवस्था के प्रभावी क्रियान्वयन के लिये सभी ग्राम-पंचायत को कम्प्यूटर सामग्री मुहैया करवाई जा रही है। प्रत्येक कम्प्यूटर में एम.एस. विण्डोज-7 होम बेसिक आपरेटिंग सिस्टम एम.एस.ऑफिस-2013 इंडिक प्रोडक्टिविटी सॉफ्टवेयर होगा। इसके साथ ही प्रत्येक ई-पंचायत को स्केनर, लेजर पिंटर ,यूपीएस ,40 इंच एलईडी टी.वी, 8 पोर्ट लेन स्विच, थ्री पेच कार्डस तथा 8 जी.बी. पेनड्राइव प्रदान की जा रही हैं। 

ई-पंचायत व्यवस्था के लिये ग्राम-पंचायतों में प्रदान कम्प्यूटर हार्डवेयर एवं अन्य संबंधित सामग्री की सुरक्षा की जिम्मेदारी ग्राम-पंचायत सचिव ग्राम-पंचायत समन्वयक अधिकारी और सरपंच को सौंपे जाने के निर्देश पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग ने जारी किये हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You