हर साल अप्रैल में ऑटो किरायों का पुनरीक्षण करेगी दिल्ली सरकार: केजरीवाल

  • हर साल अप्रैल में ऑटो किरायों का पुनरीक्षण करेगी दिल्ली सरकार: केजरीवाल
You Are HereNational
Saturday, February 08, 2014-5:01 AM
 नई दिल्ली : बुराड़ी में हजारों ऑटो ड्राइवरों की एक बैठक को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि हर साल 1 अप्रैल को सरकार ऑटो किरायों का पुनरीक्षण करेगी ।  दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ऐलान किया कि महंगाई के आधार पर ऑटो किराए का वार्षिक पुनरीक्षण किया जाएगा, परिवहन विभाग ड्राइवरों को प्रशिक्षण प्रदान करेगा और उनके लिए कुछ नियमों में छूट दी जाएगी । 
     
राजधानी में करीब 80,000 ऑटो रिक्शा हैं । अपनी चुनावी कामयाबी में आम आदमी पार्टी ने ऑटो रिक्शा वालों की महत्वपूर्ण भूमिका स्वीकार की और वादा किया कि उनकी शिकायतें दूर की जाएंगी । मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘यदि महंगाई बढ़ेगी तो ऑटो के किराये भी बढ़ाए जाएंगे । यदि महंगाई कम होगी तो सरकार ऑटो किराये में कमी भी करेगी ।’’ 
 
 केजरीवाल ने कहा कि ट्रैफिक पुलिस और परिवहन विभाग सिर्फ उस ऑटो को जब्त करेगी जिसके पास लाइसेंस, परमिट और फिटनेस प्रमाण-पत्र नहीं होंगे । मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हमें पता चला है कि ऑटो ड्राइवरों के उचित ड्रेस में नहीं होने या और भी कई छोटे-छोटे उल्लंघनों पर ट्रैफिक पुलिस नियम 66....192ए के तहत ऑटो रिक्शा जब्त कर लेती है । पर अब ट्रैफिक पुलिस सिर्फ उन ऑटो को जब्त करेगी जिनके पास लाइसेंस, फिटनेस प्रमाण-पत्र और परमिट न हों ।’’ 
 
मुख्यमंत्री ने ऑटो ड्राइवरों द्वारा यात्रियों को बिठाने से मना करने और उनसे बदसलूकी करने का मामला भी उठाया । अक्सर यात्री शिकायत करते हैं कि उन्हें ऑटो वाले ने बिठाने से मना कर दिया या उनसे बदसलूकी की । केजरीवाल ने कहा, ‘‘मैं ऑटो ड्राइवरों से अनुरोध करता हूं कि वे यात्रियों को बिठाने से मना न करें । यात्रियों के सफर से ही तो आप पैसा कमाते हैं और आपके परिवार की रोजी-रोटी चलती है ।
 
यदि ऑटो ड्राइवर रात में काम के बाद अपने घर जा रहे होते हैं तो मैं उनसे अनुरोध करता हूं कि वे आटो के आगे ‘‘नो सर्विस’’ की तख्ती लगाकर रखें । ऐसे ऑटो को यात्रियों को बिठाने से मना करने पर जुर्माना नहीं लगेगा ।’’ मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘हमें पता चला है कि कुछ ऑटो ड्राइवर यात्रियों एवं पर्यटकों के साथ बदसलूकी करते हैं । हमारी सरकार ने ऑटो ड्राइवरों को प्रशिक्षित करने का फैसला किया है जिसमें उन्हें यात्रियों एवं विदेशी पर्यटकों से सलूक करना सिखाया जाएगा ।’’ 
 
उन्होंने कहा कि नियमों के मुताबिक, ऑटो ड्राइवरों को वाहन में मीटर और जीपीएस लगाने होंगे जिसके कारण उन्हें करीब 17,000 रूपए खर्च करने होंगे ।  केजरीवाल ने कहा, ‘‘ऑटो ड्राइवर अपनी गाड़ी में पहले सिर्फ जीपीएस लगाएं । ऑटो में दोनों उपकरण एक साथ लगाने का प्रावधान नहीं होगा ।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You