‘एक और घोटाला’ जांच के आदेश

  • ‘एक और घोटाला’ जांच के आदेश
You Are HereNational
Saturday, February 08, 2014-4:02 PM

मऊ: उत्तर प्रदेश के मऊ जिले में जिला सहकारी बैंक के पूर्व प्रशासक जगन्नाथ सिंह ने जिलाधिकारी के  सामने विकास खंड परदहा की 48 ग्रामसभाओं में संपूर्ण स्वच्छता अभियान के  तहत शौचालय के  निर्माण में 70 लाख रूपये के गबन की शिकायत की है। जिलाधिकारी ने शिकायत को गंभीरता से लेते हुए जांच के आदेश दिए। जिलाधिकारी मुरली मनोहर लाल ने आज यहां बताया कि जिला सहकारी बैंक के  पूर्व प्रशासक की ओर से दिए गए शिकायती प्रार्थना पत्र में लगाया गया गबन का आरोप गंभीर है1

शिकायती पत्र के अनुसार जिला ग्राम्य विकास अभिकरण के  द्वारा वर्ष 2010-11 में विकास खंड परदहा में संपूर्ण स्वच्छता अभियान के अंतर्गत शौचालय निर्माण के लिए डीपीआरओ कार्यालय से 70 लाख रूपये निर्गत किए गए थे। इसी तरह जिले के सभी ब्लाक में शौचालय के  लिए धन आवंटित हुई थी। यही नहीं शिकायत में नियम और कानून को ताक पर रखकर सभी ग्रामसभाओं में सुविधा शुल्क लेकर धन आवंटित किये जाने का आरोप लगाया गया। सभी ग्राम सभाओं के  खाते में आवंटित धन को भेजे जाने के  तीन वर्ष बाद भी शौचालयों का निर्माण नहीं कराया गया।

पत्र में यह भी आरोप है कि प्रधान एवं सचिव द्वारा उच्चाधिकारियों से मिलकर धनराशि को गबन कर लिया गया। इसकी जानकारी जिला पंचायत राज अधिकारी को देने के बावजूद न तो जांच करायी गयी और न ही किसी प्रधान या सचिव के विरूद्ध कार्रवाई की गई। सिंह ने जिलाधिकारी से मांग की है कि उक्त धनराशि के उपयोग की जांच कराकर दोषी ग्राम प्रधानों व सचिव के विरूद्ध मुकदमा दर्ज कराया जाय
 तथा उनसे संपूर्ण धनराशि की वसूली की जाय1जिलाधिकारी ने मामले को गंभीरता से लेते हुए जांच के आदेश दिए है। उधर शिकायतकर्ता सिंह ने बातचीत में कहा कि जिले में विकास कार्यो के निर्माण की आड़ में अफसर और ठेकेदार मनमानी कर रहे हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You