भाजपा से संबंध तोडऩे वालों को पछताना होगा: जेटली

  • भाजपा से संबंध तोडऩे वालों को पछताना होगा: जेटली
You Are HereNational
Saturday, February 08, 2014-10:16 PM

पटना: भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और राज्यसभा में विपक्ष के नेता अरूण जेटली ने आज बिहार में सत्तारूढ़ जनता दल यूनाइटेड (जदयू) का नाम लिए बगैर कहा कि भाजपा से नाता तोडऩे वालो को लोकसभा चुनाव के बाद पछताना होगा। जेटली ने यहां सरदार पटेल की प्रतिमा निर्माण के लिए पार्टी की ओर से बिहार में चलाए गए लौह संग्रह अभियान के समापन समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा से नाता तोडऩे वालों को इस बार के लोकसभा चुनाव के बाद पछताना होगा।

उन्होंने कहा कि भाजपा से संबंध तोडऩे वालो को बिहार की जनता पहचान चुकी है और उन्हें इसका खामियाजा भुगतना होगा। भाजपा नेता ने जदयू का नाम लिए बगैर कहा कि पिछले वर्ष जिस पार्टी ने भाजपा से अपना नाता तोड़ लिया उन्हें अगले लोकसभा चुनाव के बाद पछताना होगा। उन्होंने कहा कि जदयू से गठबंधन खत्म होने के बाद भाजपा का जनाधार बिहार में पहले से काफी बढ़ गया है और पार्टी इस बार के लोकसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करेगी।

जेटली ने कहा कि पूरे देश में भाजपा की लहर चल रही है और लोग केन्द्र में सत्तारूढ संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (संप्रग) सरकार की जन विरोधी नीति से निराश हो गए है। उन्होंने कहा कि महंगाई और भ्रष्टाचार से लोग परेशान है और वे संप्रग सरकार को सत्ता से बाहर करने के लिए आतुर है। उन्होंने कहा कि अगले लोकसभा चुनाव के बाद भाजपा के नेतृत्व में केन्द्र में सरकार बनेगी।

इस अवसर पर पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी (प्रदेश भाजपा अध्यक्ष मंगल पांडेय) विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता नंद किशोर यादव, राज्यसभा सांसद सी.पी. ठाकुर और पूर्व मंत्री अश्विनी कुमार चौबे समेत कई अन्य वरिष्ठ नेता और बड़ी संख्या में पार्टी के कार्यकर्त्ता भी उपस्थित थे।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You