क्या भाजपा आरएसएस के साथ अपने संबंध तोड़ेगी : भूषण

  • क्या भाजपा आरएसएस के साथ अपने संबंध तोड़ेगी  : भूषण
You Are HereNational
Saturday, February 08, 2014-11:10 PM
नई दिल्ली : आम आदमी पार्टी के नेता प्रशांत भूषण ने  समझौता विस्फोट के आरोपी असीमानंद की ओर से दिए गए कथित साक्षात्कार का हवाला देते हुए आरएसएस पर आतंकी गतिविधियों को समर्थन करने का आरोप लगाया । उन्होंने ने कहा कि भाजपा यदि ऐसे दक्षिणपंथी संगठनों से संबद्ध तो उसे अपने आपको एक राष्ट्रीय पार्टी नहीं कहना चाहिए।
 
भूषण ने एक संवादददाता सम्मेलन में कहा कि एक पार्टी जिसका नेतृत्व आरएसएस, बजरंग दल और विहिप से जुड़ा है, उसे अपने आपको राष्ट्रीय नहीं कहना चाहिए। वह क्यों एक राष्ट्रीय पार्टी की भूमिका निभा रही है।
 
उन्होंने कहा, कि क्या भाजपा अपने सदस्यों को इस तरह के दक्षिणपंथी संगठनों से दूरी बनाने को कहने के लिए तैयार है? ऐसे संगठन जहर घोल रहे हैं जो राष्ट्रीय एकता के लिए खतरा है।
 
भूषण ने कहा कि असीमानंद की स्वीकारोक्ति के आने के साथ ही आरएसएस और भाजपा का पाखंड सामने आ दिया है जो हमेशा देश की सुरक्षा और एकता की बात करते हैं। उन्होंने सवाल किया कि हालिया विवाद सामने आने के बाद क्या भाजपा आरएसएस के साथ अपना संबंध खत्म करेगी।
 

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You