केजरीवाल ने दी बिजली कंपनियों को चेतावनी

  • केजरीवाल ने दी बिजली कंपनियों को चेतावनी
You Are HereNational
Sunday, February 09, 2014-6:03 PM

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्लीवासियों को आश्वस्त किया है कि उन्हें बिजली के बिना नहीं रहना पड़ेगा। हालांकि, उन्होंने लोगों से यह भी कहा कि यदि बिजली वितरण कंपनियां ‘‘ब्लैकमेल’’ करने की तरकीबें जारी रखती हैं तो लोगों को ‘‘कुछ कठिनाइयों’’ के लिए तैयार रहना चाहिए। आप सरकार और बिजली शुल्क में बढ़ोतरी के लिए दबाव बना रही अनिल अंबानी की बीएसईएस डिस्कॉम्स के मध्य जारी गतिरोध के बीच केजरीवाल ने कहा कि अनिल अंबानी या राजधानी में एक अन्य डिस्कॉम संचालक टाटाज के साथ उनका कोई व्यक्तिगत मुद्दा नहीं है। उन्होंने पीटीआई के संपादकों के साथ बातचीत में कहा, ‘‘यदि वे ईमानदारी से काम करना चाहते हैं तो हमें उनके साथ काम करने में अत्यंत खुशी होगी।’’

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली को बिना किसी बाधा के जिली मुहैया कराना डिस्कॉम्स के लिए लाइसेंस के नियम शर्तों का हिस्सा था। उन्होंने कहा, ‘‘यदि वे (डिस्कॉम्स) नियमों का उल्लंघन करती हैं तो उनका चले जाना ही बेहतर है।’’ केजरीवाल ने बिजली वितरण कंपनियों (डिस्कॉम्स) को चेतावनी दी कि उन्हें शहर के लोगों को ‘‘ब्लैकमेल’’ नहीं करने दिया जाएगा और आश्वस्त किया कि उनकी सरकार ‘‘दिल्लीवासियों को बिना बिजली’’ नहीं रहने देगी।  उन्होंने कहा, ‘‘यह केवल मेरा संघर्ष नहीं है। यदि आप लोगों के पास जाएं तो वे बिजली के मुद्दे को लेकर काफी निराश हैं। यह एक सामूहिक संघर्ष है और हमें मिलकर लडऩा होगा।’’

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘यदि हम ब्लैकमेलिंग रोकना चाहते हैं, तो हमें बदलाव की अवधि में कुछ कठिनाइयों के लिए तैयार रहना चाहिए और हर किसी को यह सहना होगा।’’ कंपनियों और पूर्ववर्ती कांग्रेस सरकार के बीच ‘‘मिलीभगत’’ का आरोप लगाते हुए केजरीवाल ने कहा कि बिजली की दरें तीन निजी डिस्कॉम्स के कैग परीक्षण के आधार पर तय होंगी। उन्होंने कहा, ‘‘कंपनियों और पूर्व की सरकार के बीच मिलीभगत थी। अब उनके लिए संदेश बहुत स्पष्ट है। यदि वे ईमानदारी से काम करना चाहती हैं तो हमें उनके साथ काम करने में काफी खुशी होगी। न तो हमारी टाटा से और न ही अंबानीज से कोई व्यक्तिगत दुश्मनी है।’’

अनिल अंबानी समूह की कंपनियां बीएसईएस राजधानी पॉवर लिमिटेड और बीएसईएस यमुना पॉवर लिमिटेड दिल्ली में 70 प्रतिशत उपभोक्ताओं को बिजली की आपूर्ति करती हैं, जबकि टाटा पॉवर डेल्ही डिस्ट्रिब्यूशन लिमिटेड शेष अन्य जगहों, नई दिल्ली नगर पालिका परिषद के अंतर्गत आने वाली जगहों को छोड़कर, को बिजली आपूर्ति करती है। केजरीवाल ने कहा, ‘‘हम न तो मित्र हैं और न ही दुश्मन। लेकिन यदि वे ऐसे ही काम करती हैं जैसे कि पहले करा करती थीं तो ऐसा नहीं चलने दिया जाएगा।’’
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You