ट्रेनों में महिलाओं की अपर्याप्त सुरक्षा पर संसदीय समिति नाखुश

  • ट्रेनों में महिलाओं की अपर्याप्त सुरक्षा पर संसदीय समिति नाखुश
You Are HereNational
Sunday, February 09, 2014-4:45 PM

नई दिल्ली: संसद की एक समिति ने उपनगरीय ट्रेनों के महिला कोचों में सुरक्षा व्यवस्था को नाकाफी करार देते हुए इसके लिए रेल मंत्रालय की आलोचना की है। रेल मंत्रालय की संसदीय स्थाई समिति ने अपनी एक रिपोर्ट में उपनगरीय ट्रेनों की महिला कोचों में आपातकालीन अलार्म सिस्टम नहीं लगाए जाने पर असंतोष जाहिर किया है।

उसने रेलवे स्टेशनों और ट्रेनों में महिलाओं की सुरक्षा के लिए पुलिसकर्मियों की पर्याप्त मौजूदगी नहीं रहने पर भी नाखुशी जताई है। रिपोर्ट में कहा गया है कि रेलवे सुरक्षा बल में महिलाओं का प्रतिनिधित्व सिर्फ 1.7 प्रतिशत है जिसे बढ़ाया जाना चाहिए। समिति ने असामाजिक तत्वों पर नजर रखने के लिए कोचों में क्लोज सॢकट कैमरे लगाने और रेलवे स्टेशनों पर उनकी लगातार मानीटरिंग की सिफारिश की है।

रिपोर्ट में सभी रेल खंडों में अलग अलग महिला हेल्पलाइन नंबर रखे जाने की आलोचना की गई है। इसमें कहा गया है कि महिला कोचों का अलग रंग निधारित किया जाना चाहिए ताकि अनपढ़ महिलाएं भी उन्हें पहचान सकें। समिति ने रेल कर्मचारियों और रेलवे सुरक्षा बल के कर्मियों को महिलाओं के प्रति ज्यादा संवेदनशील बनाने की जरूरत पर जोर दिया है।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You