विरोधियों को साथ लेकर चल रहे हैं हरीश रावत!

  • विरोधियों को साथ लेकर चल रहे हैं हरीश रावत!
You Are HereUttrakhand
Sunday, February 09, 2014-5:25 PM

देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ताज पोशी के बाद अपने प्रतिद्वंदी रहे वरिष्ठ नेता पं. नारायण दत्त तिवारी के पदचिह्नों पर चल रहे है। अपने प्रबल विरोधियों को भी साथ लेकर चलने की कला आजकल रावत भी प्रदर्शित कर रहे है। इसका प्रत्यक्ष प्रमाण उनकी पत्रकार वार्ता है जिसमें उनके धुर विरोधी पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा के पुत्र साकेत बहुगुणा भी प्रेस वार्ता में मुख्यमंत्री के बगलगीर थे। इसी प्रकार यशपाल आर्य के प्रमुख सहयोगी राजीव महिर्ष भी प्रेसवार्ता में पहुंचे थे। जो इस बात का संकेत है कि मुख्यमंत्री अपने विरोधियों को पटखनी देने के लिए उन पर प्रेम जाल फेंक रहे है। इस प्रेस वार्ता में कई वरिष्ठ नेता भी थे जिनमें वरिष्ठ कांग्रेस नेतार राजीव जैन एवं सुरेन्द्र कुमार के नाम भी शामिल है। जैन तथा सुरेन्द्र कुमार दोनो रावत के सहयोगी होने के साथ-साथ प्रवक्ता भी है। 

मुख्यमंत्री हरीश रावत ने पत्रकार वार्ता में एक साथ कई हित साधे हैं। अपने विरोधियों को एक साथ जोडऩा तथा उन्हे अपने साथ राजनीतिक प्रक्रियों में शामिल करना हरीश रावत के विशेष  अभियान में शामिल हो गया है। इसका नजारा पत्रकार वार्ता में दिखा। श्री रावत के मुख्यमंत्री बनाने के बाद के अभियान को देखा जाए तो सत्ता पक्ष और विपक्ष दोनों को जोड़कर चलना चाहते हैं। सदन के दौरान जिस ढंग से पूर्व मुख्यमंत्री डा. रमेश पोखरियाल निशंक तथा प्रतिपक्ष नेता  अजय भट्ट  की सराहना की। उससे यह पता चला रहा है कि श्री रावत मुख्यमंत्री बनाने के बाद निरंतर परिवर्तन कर रहे है, जबकि वे इस प्रवृत्ति के नेता नही माने जाते थे।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You