मेरी राजनीतिक यात्रा अभी समाप्त नहीं हुई है: आडवाणी

  • मेरी राजनीतिक यात्रा अभी समाप्त नहीं हुई है: आडवाणी
You Are HereNational
Sunday, February 09, 2014-7:21 PM

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव से ऐन पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता लाल कृष्ण आडवाणी ने राजनीति में अब भी सक्रिय रहने का संकेत देते हुए आज कहा कि उनकी राजनीतिक यात्रा अभी समाप्त नहीं हुई है जो 55 साल पहले शुरू हुई थी। अपने ब्लॉग पर करीब डेढ़ महीने के अंतराल के बाद 86 वर्षीय आडवाणी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के साथ अपने संबंधों को याद किया जिससे वह कराची में तब जुड़े थे जब महज साढ़े चौदह साल के साथ थे। उन्होंने कहा, ‘‘इसने मेरे जीवन को एक सार्थकता प्रदान की है। ’’ उन्होंने लिखा है, ‘‘जब मैंने आरएसएस के प्रचारक के रूप में काम करने के लिए अपना घर और परिवार छोड़ा तब मुझे उसमें सार्थकता नजर आयी। पहले मैंने कराची में और फिर विभाजन के बाद उजड़ जाने के बाद राजस्थान में। ’’

उन्होंने लिखा है, ‘‘वह सार्थकता तब और समृद्ध हुई जब मैं 55 साल पहले राजनीतिक यात्रा पर निकला, पहले भारतीय जनसंघ और फिर भारतीय जनता पार्टी के कार्यकर्ता के रूप में। यह एक ऐसी यात्रा है जो अबतक समाप्त नहीं हुई। ’’ उनका यह ब्लाग ऐसे समय में आया है जब महज कुछ दिन पहले भाजपा के एक वर्ग में आडवाणी के राज्यसभा में जाने की चर्चा चल रही थी। हालांकि पार्टी अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने ऐसी चर्चा का खंडन किया और कहा कि आडवाणी आगामी चुनाव लडऩे के लिए अपनी संसदीय सीट चुनने को स्वतंत्र हैं। ‘आरएसएस से जुड़ाव ने कैसे मेरे जीवन को सार्थकता प्रदान की’ नामक इस आलेख में आडवाणी ने हाल ही में खुशवंत सिंह से भेंट का भी जिक्र किया है। सिंह ने 2 फरवरी को सौंवे साल में प्रवेश किया । आडवाणी ने सिंह को इस उम्र में भी सक्रिय लेखक होने को लेकर उनकी सराहना की।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You