..जब बरातियों के सामने धमक पड़ी प्रेमिका?

  • ..जब बरातियों के सामने धमक पड़ी प्रेमिका?
You Are HereNational
Monday, February 10, 2014-2:42 PM

बलिया: अभी तक आपने ऐसी कहानीयां सिर्फ फिल्मों या किताबों में ही सुना और देखा होगा,लेकिन जो कहानी मैं आपको बताने जा रहा हूं वह हकीकत है। रुस्तमपुर में घर वाले गाजे-बाजे के साथ लड़के की बरात निकालने की तैयारी में जुटे थे। इसी बीच दूल्हे राजा की प्रेमिका वहां धमक पड़ी। उसके बाद तो सीन ने नाटकीय मोड़ ले लिया। पूरी कहानी ही बदल गयी। गांव वालों ने पंचायत बुलायी और फैसला हुआ कि दूल्हे की शादी उसकी प्रेमिका से ही होगी।

पंचायत के फैसले के अनुसार दूल्हे का दूसरा भाई बारात लेकर जायेगा और लड़की को ब्याहकर लायेेगा। स्तमपुर गांव में शनिवार की शाम चंडी शर्मा के बेटे मुकुल की बरात टेंगरहीं ले जाने की तैयारी चल रही थी। दरवाजे पर नात-रिश्तेदारों के बीच गांव के लोग भी जुटे थे। इसी बीच एक लड़की वहां धमक पड़ी। वह मुकुल के बारे में पूछताछ करने लगी। बातचीत के दौरान लड़की ने अपना नाम सुमन बताते हुए मुकुल से प्रेम संबंध होने की बात कही। यह सुनते ही घर वालों के होश उड़ गए।

दूल्हा बने मुकुल को तलब किया गया। हकीकत जानने के लिए लोग पूछताछ करने लगे। सुमन ने बताया कि कोलकाता में करीब दो साल पूर्व नौकरी के दौरान मुकुल से उसका प्रेम संबंध हुआ, उसने शादी करने का वादा भी किया था। बाद में वह कोलकाता छोड़कर कहीं और चला गया। वह उसे तलाश करती रही। बिहार के बक्सर की बिहार के बक्सर की मूल निवासी सुमन को जब किसी माध्यम से मुकुल की शादी करने की बात पता चली तो वह सीधे दरवाजे पर पहुंच गई।

खबर लगते ही पूरा गांव उमड़ पड़ा। काफी देर पंचायत के बाद ग्रामीणों ने मुकुल व सुमन की शादी कर देने का फैसला सुनाया जिस पर घर वाले भी राजी हो गए। उधर टेंगरहीं वालों को पूरा माजरा बताया गया। यह सुनते ही लड़की वाले सकते में आ गए। लोगों ने इज्जत की दुहाई देते हुए उसकी शादी मुकुल के छोटे भाई से करने की बात रखी जिस पर लड़की वाले राजी हो गए। गांव वालों की वजह से किसी तरह मामला शांत हुआ और मुकुल व सुमन की शादी के लिए समय ले घर वाले बारात लेकर टेंगरहीं निकल गए।

अपना सही जीवनसंगी चुनिए| केवल भारत मैट्रिमोनी पर- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन

Recommended For You