गीतिका सुसाइड केस: अरुणा को मिली जमानत

  • गीतिका सुसाइड केस: अरुणा को मिली जमानत
You Are HereNational
Monday, February 10, 2014-7:11 PM

नई दिल्ली: गीतिका सुसाइड केस में आज दिल्ली हाईकोर्ट ने अरुणा चड्ढ़ा को जमानत दे दी है। एयर होस्टेस गीतिका के सुसाइड केस में हरियाणा पूर्व के पूर्व मंत्री गोपाल कांडा के साथ अरुणा सह-आरोपी है। पिछले साल 8 अगस्त को अरुणा चड्ढ़ा को गिरफ्तार किया गया था। न्यायमूर्ति वी. पी. वैश ने चड्ढा को एक लाख के निजी मुचलके और एक-एक लाख की दो जमानत राशियों पर रिहा किया। अदालत ने उन्हें देश से बाहर नहीं जाने, सबूतों के साथ छेड़छाड़ न करने और गवाहों को प्रभावित नहीं करने की हिदायत दी है।

गौर हो कि गीतिका पांच अगस्त 2012 को पश्चिमोत्तर दिल्ली के अशोक विहार स्थित अपने आवास में मृत पाई गई थी। अपने सुसाइड नोट में उसने कहा था कि गोपाल कांडा और अरुणा चड्ढा द्वारा प्रताडि़त किए जाने के कारण मैं आत्महत्या कर रही हूं। चड्ढा और कांडा 23 वर्षीय एयर होस्टेस को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोपी हैं। वह कांडा की एमडीएलआर एयरलाइंस में पहले काम करती थी।

चड्ढा और कांडा पर आईटी अधिनियम के तहत कंप्यूटर हैकिंग और आपत्तिजनक एवं गलत संदेश भेजने के मद्देनजर आत्महत्या के लिए उकसाने, आपराधिक षडयंत्र, जालसाजी और अपराध के मामले दर्ज हैं। पुलिस ने चड्ढा को आठ अगस्त 2012 को गिरफ्तार किया था, जबकि कांडा ने 18 अगस्त को पुलिस के समक्ष आत्मसमर्पण किया था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You