इशरत मामला : आईबी के पूर्व विशेष निर्देशक ने आरोपपत्र की प्रति मांगी

  • इशरत मामला : आईबी के पूर्व विशेष निर्देशक ने आरोपपत्र की प्रति मांगी
You Are HereNational
Tuesday, February 11, 2014-9:55 AM

अहमदाबाद: इशरत जहां मामले में आरोपी खुफिया ब्यूरो (आईबी) के पूर्व विशेष निर्देशक राजिन्दर कुमार का प्रतिनिधित्व कर रहे वकील ने कहा कि केंद्र सरकार के किसी अधिकारी के खिलाफ आरोपपत्र पर कोई भी अदालत तब तक संज्ञान नहीं ले सकती जब तक आवश्यक मंजूरी हासिल नहीं की गई हो।

कुमार के वकील एस. वी. राजू ने अतिरिक्त मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट एस. एस. खुटवाड़ से कहा कि आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा 197 के तहत केंद्र सरकार के अधिकारियों पर अभियोजन के लिए केंद्र की मंजूरी लेना आवश्यक है। इस मामले में मंजूरी नहीं ली गई है।

इशरत जहां कथित फर्जी मुठभेड़ मामले में सीबीआई ने कुमार और तीन अन्य पर हत्या एवं आपराधिक षड्यंत्र का आरोप तय किया है। कुमार ने आज विशेष अदालत का दरवाजा खटखटाकर पूरक आरोपपत्र की प्रति मांगी है ।
 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You