ब्रॉडगेज रेल लाइन से जुडेंग़े महाकालेश्वर और ममलेश्वर ज्योतिर्लिंग

  • ब्रॉडगेज रेल लाइन से जुडेंग़े महाकालेश्वर और ममलेश्वर ज्योतिर्लिंग
You Are HereNational
Wednesday, February 12, 2014-3:52 PM

इंदौर: पश्चिम रेलवे मध्यप्रदेश के उज्जैन स्थित महाकालेश्वर और ओंंकारेश्वर स्थित ममलेश्वर ज्योतिर्लिंगों को ब्रॉडगेज रेल लाइन से जोडऩे की महती परियोजना पर काम चल रहा है। रतलाम मंडल के वार्षिक निरीक्षण के दौरान आज यहां आए पश्चिम रेलवे के महाप्रबंधक हेमंत कुमार ने संवाददाताओं से कहा, ‘हमें उम्मीद है कि उज्जैन में वर्ष 2016 मेंं आयोजित सिंहस्थ महाकुंभ से पहले इस परियोजना के तहत उज्जैन से महू तक की मीटर गेज रेल लाइन को ब्रॉडगेज में तबदील कर दिया जाएगा।’

 

कुमार ने बताया कि रतलाम-इंदौर रेल मार्ग की गेज परिवर्तन परियोजना के तहत रतलाम से फतेहाबाद तक की लाइन ब्रॉडगेज में पहले ही बदल चुकी है। रेलवे सुरक्षा आयुक्त (सीआरएस) की जांच के बाद इस खंड पर रेल सेवाएं जल्द ही शुरू की जाएंगी। उन्होंने बताया कि इन रेल सेवाओं के शुरू होने के फौरन बाद रतलाम-इंदौर रेल मार्ग पर फतेहाबाद से इन्दौर के बीच गेज परिवर्तन का काम शुरू करने की योजना है।

 

कुमार ने उम्मीद जतायी कि उज्जैन से फतेहाबाद के बीच के रेल खंड के गेज परिवर्तन का काम सिंहस्थ 2016 से पहले पूरा कर लिया जाएगा। महाप्रबंधक ने कहा कि सिंहस्थ 2016 के लिये पश्चिम रेलवे की तैयार विस्तृत योजना के तहत उज्जैन स्टेशन पर यात्री सुविधाएं बढ़ाई जा रही हैं। इंदौर-दाहोद रेल लाइन के धीमे निर्माण के लिये कुमार ने ‘नाम मात्र के बजट आवंटन’ को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की मौजूदगी में औपचारिक रूप से वर्ष 2008 में शुरू हुई इस परियोजना पर बजट आवंटन के मुताबिक ही काम हो रहा है। इंदौर में पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप :पीपीपी: मॉडल के तहत नए रेलवे स्टेशन के निर्माण की किसी योजना से उन्होंने साफ इंकार किया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You