हंगामें के बीच पास हुआ पूर्वी दिल्ली नगर निगम का बजट

  • हंगामें के बीच पास हुआ पूर्वी दिल्ली नगर निगम का बजट
You Are HereNational
Wednesday, February 12, 2014-7:45 PM
नई दिल्ली : पूर्वी दिल्ली नगर निगम का बजट बुधवार को पास किया गया । इस दौरान काफी हंगामा हुआ।  नेता सदन बीबी त्यागी के बजट अभिभाषण में केंद्र की यूपीए सरकार के जाने और भाजपा के आने की बात कहने पर विपक्ष ने जमकर हंगामा किया। 
 
पूर्वी दिल्ली के लोगों पर निगम कोई नया कर नहीं लगाएगा, लेकिन निगम ने आय में वृद्धि करने के लिए संपत्ति कर की वसूली का लक्ष्य अधिक किया है। संपत्ति कर से आय का लक्ष्य 55 सौ लाख रुपये रखा गया है।  महापौर रामनारायण दुबे ने इसकी शुरुआत करवाई। 
 
नेता सदन बीबी त्यागी ने बजट अभिभाषण शुरू किया। त्यागी की टिप्पणी पर नेता प्रतिपक्ष वरयाम कौर सहित अन्य विपक्षी पार्षद हंगामा करने लगे। वे सदन के वेल में पहुंच गए। कई पार्षद तो महापौर की कुर्सी के पास जाकर हंगामा करने लगे। उन्होंने कांग्रेस जिंदाबाद और भाजपा मुर्दाबाद के नारे भी लगाए। इस दौरान विपक्षी पार्षदों ने बजट की प्रतियां फाड़ दी। काफी देर तक हंगामा होता रहा है।
 
बाद में अभिभाषण से इस वाक्य को हटाने के महापौर के आश्वासन के बाद विपक्षी सदस्य शांत हुए। इसके बाद सदन की बैठक शुरू हुई। नेता सदन के अभिभाषण के बाद वर्ष 2013-14 के संशोधित अनुमानित बजट और वर्ष 2014-15 के बजट अनुमान को सदन ने सर्वसम्मति से पास कर दिया।
त्यागी ने बताया कि नए वित्त वर्ष के बजट में निगमायुक्त ने कई नए करों का प्रावधान किया था, लेकिन स्थायी समिति अध्यक्ष संजय सुर्जन ने बजट से नए करों को हटा दिया है। 
 
पूर्वी दिल्ली के लोगों पर निगम कोई नया कर नहीं लगाएगा, लेकिन निगम ने आय में वृद्धि करने के लिए संपत्ति कर की वसूली का लक्ष्य अधिक किया है। संपत्ति कर से आय का लक्ष्य 55 सौ लाख रुपये रखा गया है। इसके अलावा विज्ञापन से होने वाली आय के लक्ष्य को भी दोगुने से ज्यादा किया गया है। इससे निगम को पर्याप्त आय होगी। निगम आयुक्त की ओर से पेश बजट से कई नए करों को हटाने के बाद भी स्थायी समिति अध्यक्ष ने आय के लक्ष्य में 2105 लाख रुपये की वृद्धि की है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You