नाराज मुसलमानों को मना रही कांग्रेस

  • नाराज मुसलमानों को मना रही कांग्रेस
You Are HereNational
Thursday, February 13, 2014-1:07 AM
नई दिल्ली : उत्तर-पूर्वी दिल्ली लोकसभा क्षेत्र में मुसलमानों का प्रतिशत सबसे अधिक है। यमुनापार में जिस तरह विधानसभा चुनाव में कांग्रेस की लाज मुस्तफाबाद और सीलमपुर के मुसलमानों ने बचाई थी, उसी तरह लोकसभा चुनाव में भी मुसलमान उत्तर-पूर्वी लोकसभा सीट से कांग्रेस प्रत्याशी की हार-जीत का फैसला तय करेंगे।
 
यही वजह है कि कांग्रेस पार्टी के आला नेताओं को नाराज मुस्लिम कार्यकत्र्ताओं की याद आ गई है। अब वह उन्हें मनाने और उन में फिर से जोश भरने की कवायद में लग गए हैं। यही वजह है कि सोमवार को हरनाम पैलेस में उत्तर-पूर्वी दिल्ली के काग्रेस कार्यकत्र्ताओं के लिए एक सम्मेलन का आयोजन किया गया।
 
जिसमें सांसद जयप्रकाश अग्रवाल, दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष अरविंद्र सिंह, विधायक चौधरी मतीन अहम, हसन अहमद समेत बड़े नेता मौजूद थे। नेताओं ने कार्यकत्र्ताओं से फिर से पूरे जोश के साथ पार्टी के लिए काम करने की अपील की।उत्तर-पूर्वी लोकसभा सीट से मौजूदा समय में जय प्रकाश अग्रवाल सांसद हैं लेकिन कार्यकत्र्ताओं में इस बात की सुग-बुगाहट है कि वह क्षेत्र से किसी मुस्लिम प्रत्याशी को चाहते हैं। उत्तर-पूर्वी दिल्ली में मुसलानों की आबादी के आधार पर कार्यकत्र्ताओं का कहना है कि वास्तव में एक मुस्लिम प्रत्याशी इस सीट के लिए हकदार है लेकिन उनसे यह हक छीना जाता रहा है।
 
अगर वास्तव में कांग्रेस मुसलमानों को साथ लेकर चलना चाहती है तो इस सीट से किसी मुस्लिम प्रत्याशी को खड़ा करे, ताकि इस सीट पर मुस्लिम वोट न बिखरे। मुस्तफाबाद नेहरू विहार वार्ड से कांग्रेस पार्षद हाजी ताज मोहम्मद का कहना है कि विधानसभा चुनाव में हार के बावजूद कांग्रेस कार्याकत्र्ताओं में काम करने का जोश कम नहीं हुआ है लेकिन कांग्रेस द्वारा आम आदमी पार्टी को समर्थन देने के बाद से कार्यकत्र्ताओं का मनोबल टूटा है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You