आरोप सुनने के बाद अदालत में उदास हो गए आसाराम

  • आरोप सुनने के बाद अदालत में उदास हो गए आसाराम
You Are HereNational
Thursday, February 13, 2014-6:21 PM

जोधपुर: प्रवचन करने वाले आसाराम और चार अन्य ने एक नाबालिग के यौन उत्पीडऩ के मामले में आज जोधपुर जिला और सत्र अदालत द्वारा पढ़े गए आरोपों पर खुद को बेगुनाह कहा। आसाराम और चार सह-आरोपियों ने अपने खिलाफ लगाए गए आरोपों को खारिज कर दिया और मुकदमे का रास्ता चुना जिसके बाद न्यायाधीश मनोज कुमार व्यास ने सुनवाई 17 फरवरी तक के लिए स्थगित कर दी।

आसाराम अदालत में आरोपों को सुनने के बाद उदास हो गए लेकिन जेल लौटते समय बस में सवार होने के दौरान उन्होंने कहा कि सबकुछ ठीक हो जाएगा।  शिवा और शिल्पी समेत चार अन्य आरोपी आज अदालत में पेश हुए जिन्हें जमानत दी जा चुकी है।

अदालत ने आसाराम के खिलाफ बलात्कार, आपराधिक षड्यंत्र और अन्य अपराधों के मामले में शुक्रवार को आरोप तय किए थे। इस बीच आसाराम के वकील ने अदालत में आवेदन करके दिल्ली पुलिस द्वारा दर्ज पीड़िता के बयानों को उपलब्ध कराने के लिए कहा है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You