AAP की योजना जनलोकपाल बिल पेश करना: केजरीवाल

  • AAP की योजना जनलोकपाल बिल पेश करना: केजरीवाल
You Are HereNational
Friday, February 14, 2014-11:28 AM

नई दिल्ली: मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कल रात कहा कि उनकी सरकार की योजना विधानसभा में जनलोकपाल विधेयक पेश करने की है। साथ ही, उन्होंने प्रस्तावित विधेयक को कांग्रेस और भाजपा द्वारा पारित नहीं होने देने की सूरत में एक बार फिर इस्तीफे की धमकी दी। उन्होंने कहा कि आप सरकार सत्र का विस्तार 16 फरवरी से आगे करने को तैयार है और विधेयक का पारित होना सुनिश्चित करेगी लेकिन इसके पारित नहीं होने की स्थिति में उनके पास इस्तीफा देने के अलावा और कोई विकल्प नहीं होगा।

 

यह पूछे जाने पर कि यदि विधेयक को सदन में पेश नहीं करने दिया गया तो क्या वह इस्तीफा दे देंगे, केजरीवाल ने कहा कि इस मामले में सरकार अगले कुछ दिनों में इसे पेश करने की कोशिश करेगी और सत्र का विस्तार भी कर सकती है। केजरीवाल ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘हम सत्र में विस्तार के लिए तैयार हैं। हम यहां सरकार बचाने के लिए नहीं हैं। हम सदन में विधेयक पेश करेंगे। यदि वे इजाजत देते हैं तो ठीक है, अन्यथा मैं इस्तीफा दे दूंगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हम जनलोकपाल विधेयक और स्वराज विधेयक के लिए प्रतिबद्ध हैं तथा भारत से भ्रष्टाचार हटाने के लिए मैं मुख्यमंत्री पद 100 बार कुर्बान करने के लिए तैयार हूं।’’

 

उन्होंने आरोप लगाया कि कानून मंत्री सोमनाथ भारती के इस्तीफे के मुद्दे पर सदन का कामकाज नहीं चलने देने के लिए भाजपा और कांग्रेस ने हाथ मिला लिया है। केजरीवाल ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि भारत के इतिहास में किसी विधानसभा में ऐसा हुआ होगा कि भाजपा और कांग्रेस एकजुट हो गई हो। इन्होंने खुद को बेनकाब कर दिया है। उन्होंने कहा, ‘‘जिस तरह से वे मुझ पर आरोप लगा रहे हैं मुझे लगता है कि वे मुझे पीटने आ रहे हैं। उन्होंने मेरी सीट के सामने माइक तोड़ दी और कागज फाड़ दिए। उन्होंने स्पीकर के भी दो माइक तोड़ दिए। संसद में भी आज ऐसा ही हुआ।’’

 

उन्होंने कहा कि हम भारती के मुद्दे पर चर्चा के लिए तैयार हैं। केजरीवाल ने कहा कि दोनों पार्टियों के हाथ मिलाने का कारण मुकेश अंबानी है। उन्होंने इन दोनों को एक साथ किया है। दो दिन पहले ही अंबानी के खिलाफ एक प्राथमिकी दर्ज हुई और इनमें से कोई भी पार्टी उन्हें बचाने में सक्षम नहीं है। वे आप को नष्ट करना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस कहती है कि वह आप का समर्थन कर रही है लेकिन आज यह स्पष्ट हो गया कि वह हमारा समर्थन नहीं कर रही है बल्कि भाजपा का समर्थन कर रही है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You