कृषि रोड मैप के केन्द्र में हैं किसान: नीतीश

  • कृषि रोड मैप के केन्द्र में हैं किसान: नीतीश
You Are HereNational
Saturday, February 15, 2014-3:41 PM

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने प्रदेश के किसानों को कृषि रोड मैप का केन्द्र बताते हुए आज कहा कि यदि कृषकों की आमदनी बढ़ती रही तो राज्य का विकास दर टिकाउ हो जाएगा। कुमार ने यहां मीठापुर कृषि प्रक्षेत्र परिसर में कृषि विभाग के संयुक्त कृषि भवन का निर्माण कार्य  एवं राज्य के कई जिलों में गोदाम एवं प्रसंस्करण इकाई के शिलान्यास कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि राज्य के 76 प्रतिशत लोग कृषि पर निर्भर हैं।

कृषि के क्षेत्र में विस्तार की असीम संभावनाएं है और इसी के मद्देनजर सरकार ने कृषि रोड मैप तैयार किया है। कृषि से जुड़ा हर व्यक्ति चाहे वह भू- स्वामी हो या फिर खेतों में काम करने वाला मजदूर सभी किसान है। उन्होंने कहा कि किसानों को केन्द्र में रखकर ही रोड मैप की परिकल्पना की गर्इ है क्योंकि जब किसान का जीवन खुशहाल होगा तो राज्य भी खुशहाल हो जाएगा।
   
मुख्यमंत्री ने कहा कि किसानों के खुशहाल होने से राज्य के सकल घरलू उत्पाद जीडीपी. में भी वृद्धि होगी। राज्य ने पूरे देश में सर्वाधिक विकास दर हासिल किया है और किसानों की आमदनी बढ़ती रही तो राज्य का विकास दर टिकाउ हो जाएगा। उन्होंने स्पष्ट किया कि कृषि और कृषि से जुड़े सभी कार्य देश एवं राज्य के विकास में खास महत्व रखते हैं।  उन्होंने राज्य के रोड मैप को व्यापक और बहुआयामी बताया।

कुमार ने कहा कि कृषि से संबंधित किसी कार्यक्रम में शामिल होने पर उन्हें बेहद खुशी का अनुभव होता है। यदि किसानों की आर्थिक स्थिति सुदृढ़ होगी तो उनके जीवन में खुशहाली आयेगी और राज्य भी खुशहाल बनेगा1 मीठापुर क्षेत्र में बनने वाले भवनों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि इससे पहले इस क्षेत्र में हर तरफ जल जमाव था लेकिन अब यह क्षेत्र एजुकेशन हब के रूप में अलग पहचान रखता है।
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि क्षेत्र में अबतक कई शैक्षणिक संस्थाओं की स्थापना की जा चुकी है। यहां पर ऊर्जा विभाग की भी भूमि है जिसमें ऊर्जा पार्क विकसित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा कृषि के क्षेत्र में किये जा रहे प्रयासों से किसानों में गजब का उत्साह है। किसान भी जमकर मेहनत कर रहे हैं और उनके मेहनत का परिणाम है कि राज्य लगातार दो सालों से कृषि कर्मण पुरस्कार जीत रहा है। समारोह को कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह,खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण मंत्री श्याम रजक समेत अन्य लोगों ने भी संबोधित किया।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You