दिल्ली पुलिस ने की पूर्वोत्तर के लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की घोषणा

  • दिल्ली पुलिस ने की पूर्वोत्तर के लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित करने की घोषणा
You Are HereNational
Saturday, February 15, 2014-9:24 PM
नई दिल्ली : दिल्ली में पूर्वोत्तर के लोगों पर लगातार हो रहे हमले के मद्देनजर दिल्ली पुलिस ने उनकी समस्याओं के समाधान के लिए नई इकाई के गठन और हेल्पलाइन शुरू करने सहित कई उपायों की आज घोषणा की ।
 
दिल्ली पुलिस के आयुक्त बी. एस. बस्सी ने बताया कि पूर्वोत्तर के लोगों के लिए हमने हेल्पलाइन शुरू करने का निर्णय किया है औ यह हेल्पलाइन नंबर 1093 है । नियंत्रण कक्ष में इस नम्बर के पांच लाइन होंगे।
 
 उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य है कि जो कोई भी 100 नम्बर पर फोन करने के अलावा पुलिस की समस्याओं का सामना कर रहा है, कोई भी व्यक्ति जो पूर्वोत्तर का है वह 1093 पर पुलिस से संपर्क कर सकता है ।
 
      बस्सी ने कहा कि नीडो तानिया मामले के बाद ये कदम उठाए जा रहे हैं ।  दिल्ली उच्च न्यायालय ने इस सिलसिले में पुलिस को निर्देश दिए थे ।उन्होंने कहा कि इसके अलावा पुलिसिंग की समस्याओं के समाधान के लिए हमने विशेष प्रकोष्ठ गठित किया है । यह प्रकोष्ठ नानकपुरा में काम करेगा और डीसीपी स्तर का अधिकारी इसकी निगरानी करेगा ।
     
बस्सी ने कहा कि इस प्रकोष्ठ के गठन का उद्देश्य दिल्ली पुलिस के प्रयासों का समन्वय करना है ताकि पूर्वोत्तर के लोगों की सुरक्षा सुनिश्चित की जा सके । इससे पहले देश के पूर्वोत्तर हिस्से के लोगों की समस्याओं के समाधान के लिए दिल्ली पुलिस के पास सात नोडल अधिकारी थे ।अब निर्णय किया गया है कि सभी जिले के डीसीपी नोडल अधिकारी होंगे जो पूर्वोत्तर के विभिन्न समूहों के संपर्क में रहेंगे और किसी को आ रही समस्या का समाधान करने में मदद करेंगे ।
 
पुलिस ने मुनिरका जैसे कुछ इलाकों की पहचान की है जहां पूर्वोत्तर के लोग ज्यादा संख्या में रहते हैं । बस्सी ने कहा कि इन इलाकों में अब से विशेष निवारक पुलिसिंग सुनिश्चित की जाएगी । पुलिस आयुक्त ने पूर्वोत्तर समुदाय के सभी लोगों को राष्ट्रीय राजधानी में सुरक्षा का आश्वासन दिया ।
 
 उन्होंने कहा, ‘‘मैं देश के पूर्वोत्तर लोगों को आश्वासन देता हूं कि दिल्ली पुलिस सभी समूहों की सुरक्षा सुनिश्चित करने को प्रतिबद्ध है खासकर वे जो पूर्वोत्तर राज्यों के हैं या महिलाएं, बच्चे, वरिष्ठ नागरिक आदि हैं ।’’  उन्होंने कहा, ‘‘हमारे अधिकारी किमे कामिंग जो पूर्वोत्तर राज्य के हैं और फिलहाल चौथी बटालियन के डीसीपी हैं वह नई इकाई की देखरेख करेंगे । वह संयुक्त आयुक्त रॉबिन हिब्रू के निरीक्षण में काम करेंगे जो हमारे मुख्य समन्वयक हैं ।’’
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You