जे.एन.यू.के गंगा ढ़ाबे पर 2 युवतियों के साथ मारपीट

  • जे.एन.यू.के गंगा ढ़ाबे पर 2 युवतियों के साथ मारपीट
You Are HereNcr
Sunday, February 16, 2014-3:07 PM

नई दिल्ली: जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी में ए.आई.एस.एफ. के एक सदस्य पर 2 युवतियों के साथ गाली-गलौज और धक्का-मुक्की करने का आरोप लगा है। ए.आई.एस.एफ. के राष्ट्रीय महासचिव विश्वजीत ने नवोदय टाइम्स से कहा है कि संगठन मामले की जांच कर रहा है और उचित कार्रवाई करेगा। हालांकि वे स्पष्ट तौर पर कुछ नहीं बता सके कि क्या कार्रवाई की जाएगी।

आरोप एस.आई.एस.एफ. के सदस्य तारेंद्र पर लगाया गया है। क्या एफआईआर दर्ज कराने की जरूरत नहीं है? विश्वजीत ने कहा कि सभी को न्याय पाने का हक है और अगर एफआईआर दर्ज कराने में पीड़िता को दिक्कत पेश आती है, तो वे मदद करने को तैयार हैं।

यह मामला वीरवार की रात जे.एन.यू. कैंपस के गंगा ढ़ाबे का है। अब तक पीड़ित ने पुलिस में मामला दर्ज नहीं कराया है। शनिवार को मामले की चर्चा फेसबुक पर भी रही। अविनाश ने अपने पोस्ट में लिखा कि ए.आई.एस.एफ. पूरे मामले को टालमटोल करने की कोशिश कर रहा है। 48 घंटे बीत जाने के बाद भी कोई कदम नहीं उठाया गया है।

कई लोगों ने घटना पर ए.आई.एस.एफ. की चुप्पी को शर्मनाक करार दिया है। एक व्यक्ति ने लिखा कि छात्र संगठन महिलाओं के खिलाफ हिंसा पर जीरो टॉलरेंस की बात करता है, लेकिन अपने सदस्य पर आरोप लगने पर खामोश हो जाता है। इस घटना से छात्र संगठन का दोहरा चरित्र सामने आ रहा है।

गौरतलब है कि ए.आई.एस.एफ. महिलाओं और छात्राओं के मुद्दे को जोर शोर से उठाता रहा है। वहीं जब तारेंद्र से उनका पक्ष जानने के लिए फोन किया गया तो उन्होंने कहा कि वे कुछ नहीं कहेंगे। उन्होंने संगठन से पूछने की बात कही है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You