किसान महापंचायत ने मांगों को लेकर लिखा PM को पत्र

  • किसान महापंचायत ने मांगों को लेकर लिखा PM को पत्र
You Are HereNational
Sunday, February 16, 2014-3:56 PM

जयपुर: किसान महापंचायत नें प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से अंतरिम बजट में किसानों की आय की सुनिश्चितता एवं कृषि उपजों के न्यूनतम समर्थन मूल्यों को लागत पर 100 प्रतिशत लाभांश जोड़कर निर्धारित करने सहित कई मांगों को लेकर पत्र प्रेेषित किया है। महापंचायत के संयोजक एवं किसान नेता रामपाल जाट ने बताया कि प्रधानमंत्री को लिखे पत्र में किसानों की आय की सुनिश्चितता एवं कृषि उपजों के न्यूनतम समर्थन मूल्यों को लागत पर 100 प्रतिशत लाभांश जोड़कर निर्धारित करने तथा सरकारी खरीद के लिए प्राथमिक कृषि सहकारी समितियों को खरीद केन्द्र बनाकर वर्ष भर खरीद चालू रखने, रबी फसलों पर बोनस घोषित करने तथा महात्मा गांधी नरेगा योजना  कृषि से जोडने के लिए विधान में संशोधन करने की घोषणा करने की मांग की है।

जाट ने बताया कि पत्र में न्यूनतम समर्थन मूल्यों में सम्मिलित फसलों की संख्या 24 से घटाकर 12 करने जैसे किसान विरोधी निष्कर्ष एवं अनुशंषाओं को अस्वीकृत करने की मांग पर जोर दिया गया है। उन्होंने बताया कि राज्य में मूंगफली की खरीद की अवधि 28 फरवरी घोषित की गई है जबकि प्रदेश में उत्पादित 89 प्रतिशत मूंगफली की खरीद शेष है। अकेले बीकानेर में तुलाई की प्रतीक्षा में खुले में 11 लाख बोरियां को लेकर मौसम की मार से किसान चिंतित है।जाट ने रोष व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार दलहन एवं तिलहनों के आयात पर तो एक वर्ष में करोडों रुपये व्यय करती है किन्तु देश के किसानों को तिलहन एवं दलहन का लागत मूल्य भी नहीं देना चाहती।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You