पथरीबल मुठभेड़: एंटनी कर सकते हैं सेना का समर्थन

  • पथरीबल मुठभेड़: एंटनी कर सकते हैं सेना का समर्थन
You Are HereNational
Sunday, February 16, 2014-4:16 PM

नई दिल्ली: रक्षा मंत्री ए के एंटनी, पथरीबल में कथित फर्जी मुठभेड़ में अपने पांच कर्मियों को क्लीनचिट की समीक्षा से अनिच्छुक सेना का संभवत: समर्थन कर सकते हैं, जिसको लेकर जम्मू कश्मीर में काफी रोष है। सेना ने हाल में मुठभेड़ से जुड़े मामला बंद करने की घोषणा की जिसमें दक्षिण कश्मीर में पथरीबल में 14 साल पहले पांच लोग मारे गए थे। सीबीआई ने एक ब्रिगेडियर और एक सूबेदार सहित सेना के चार अधिकारियों के खिलाफ आरोपपत्र दाखिल किया था।

मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला, राज्य के राजनीतिक दल और आम लोगों ने सेना के फैसले पर कड़ी आपत्ति जताई और इस पर फिर से विचार करने को कहा। उमर ने प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के हाल के जम्मू दौरे के दौरान मामला उठाया। माना जाता है कि प्रधानमंत्री ने एंटनी से इस पर नये सिरे से गौर करने को कहा लेकिन बताया जाता है कि वह इसके विरूद्ध है। प्रतिक्रिया के लिए रक्षा मंत्रालय को लगातार ई-मेल और फोन कॉल के बावजूद कोई जवाब नहीं मिला। हालांकि, सेना मुख्यालय ने कहा, ‘‘हमने अपनी रिपोर्ट मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट को दे दी है और जो भी उचित लगे वह कदम उठा सकते हैं।’’

राज्य सरकार के लिए अब न्यायपालिका के जरिए कदम उठाने का ही रास्ता है। मुख्यमंत्री ने हाल में राज्य विधानसभा में कहा था कि ‘‘उच्च न्यायालय में रिट याचिका के जरिए आगे बढने की स्थिति में हम निश्चित तौर पर यह करेंगे। हम इस मामले (पथरीबल) में लोगों को इंसाफ दिलाने के लिए प्रतिबद्ध हैं।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You