लोगों की सुरक्षा हमारा फर्ज: पुलिस आयुक्त

  • लोगों की सुरक्षा हमारा फर्ज: पुलिस आयुक्त
You Are HereNational
Monday, February 17, 2014-12:44 AM
नई दिल्ली : दिल्ली पुलिस का 67वां स्थापना दिवस किग्जवें कैंप स्थित नई पुलिस लाइन परेड मैदान में मनाया गया। इस अवसर पर आकर्षक परेड का आयोजन किया गया। परेड की मुख्य अतिथि केंद्रीय गृहराज्य मंत्री आर.पी.एन सिंह ने सलामी ली। पुलिस आयुक्त भीम सैन बस्सी ने मुख्य अतिथि की आगवानी की और उनके साथ परेड का निरीक्षण किया। 
 
इस मौके पर गृह मंत्रालय, केंद्रीय पुलिस संगठनों के वरिष्ठ अधिकारियों, भूतपूर्व पुलिस आयुक्तों एम.बी.कौशल, टी.आर. कक्कड्, अरुण भगत, नीरज कुमार सहित कई अन्य गणमान्य अधिकारियों ने समारोह में हिस्सा लिया। इस अवसर पर दिल्ली पुलिस की विभिन्न टुकडिय़ों ने अपने कौशल का प्रदर्शन किया। प्रदर्शन के दौरान दिल्ली सशस्त्र पुलिस का दस्ता, यातायात पुलिस का मोटरसाइकिल दस्ता, पी.सी.आर. वाहनों का दस्ता, कमांडो दस्ता, दंगा विरोधी दस्ता, महिला कमांडो दस्ता, श्वान दस्ता, घुड़सवार दस्ता, स्वेट, वज्र, रक्षक व वाटर-कैनन वाहनों के साथ-साथ दिल्ली पुलिस के चिर-परिचित पुलिस बैंड ने अपनी कार्यशैली और कार्यक्षमता का बेहतरीन प्रदर्शन किया। 
 
इस मौके पर मुख्य अतिथि आर.पी.एन.सिंह ने कहा कि दिल्ली पुलिस देश के सर्वेश्रेष्ठ पुलिस बलों में से एक है जो विभिन्न परिस्थितियों में भिन्न-भिन्न प्रकार की चुनौतियों का सामना करती है। उन्होंने दिल्ली पुलिस के फ्री रजिस्ट्रेशन, पारदर्शिता और अपने दायित्वों के प्रति उत्तरदायित्व की सराहना करते हुए कहा कि दिल्ली पुलिस को राजधानी में ऐसा सुरक्षित और संरक्षित वातावरण बनाना चाहिए, जिसमें देश के विभिन्न भागों से आए नागरिक स्वयं को सहज और अपनापन महसूस करें।   उन्होंने जनसहयोग की महत्ता पर जोर देते हुए कहा कि पुलिस व जनता के बीच परस्पर ऐसे संबंध होने चाहिए कि कोई भी नागरिक बिना किसी संकोच के लिए अपनी सूचना या शिकायत पुलिस के साथ बांट सके।  उन्होंने भ्रष्टाचार और महिलाओं के खिलाफ  होने वाले अपराधों की जीरो टोलरेंस पद्धति पर जोर देते हुए कहा कि नैतिक मूल्यों को अपनाए। 
  
पुलिस आयुक्त भीम सैन बस्सी ने कहा कि दिल्ली में फ्री रजिस्ट्रेशन और पुलिस व जनता के बीच बेहतर दोस्ताना संबंद बनाने पर विशेष जोर दिया गया है। उन्होंने कहा कि दिल्ली पुलिस दिल्ली के नागरिकों की सुरक्षा के लिए वचनबद्व है। लोगों की सुविधा के लिए सतर्कता शाखा में 4 डिजिट की नई हैल्पलान शुरू की जा रही है जिस पर नागरिक अपनी शिकायतें दर्ज करा सकेंगे। इसके साथ ही ऐसा व्यवस्था भी की जा रही है कि असंज्ञेय अपराधों के लिए पुलिस स्टेशन के बजाए, पुलिस हैल्पलाइन, टेलीफोन, लैपटॉप आदि से भी रिर्पोट दर्ज करवाई जा सकेगी।  

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You