अब वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए मिलेगा मैरिज सर्टिफिकेट

  • अब वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए मिलेगा मैरिज सर्टिफिकेट
You Are HereNational
Monday, February 17, 2014-11:29 AM

नई दिल्ली: खास तौर से विदेश में रहने वाले दंपतियों को बगैर हाजिरी विवाह प्रमाण पत्र के लिए पंजीयन की सुविधा प्रदान करने के लिए दिल्ली उच्च न्यायालय ने कहा है कि ये प्रमाण पत्र वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जारी किए जा सकते हैं। न्यायमूर्ति मनमोहन ने कनाडा में रह रहे नव विवाहित के लिए पमाण पत्र जारी करने की अनुमति देते हुए कहा कि पंजीयन के लिए आवेदन देते समय सदेह उपस्थिति अनिवार्य होने का नियम जिस समय लागू किया गया था उस समय ‘प्रौद्योगिकी’ मुहैया नहीं थी।

 

अदालत ने कहा कि वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए दंपति की पुष्टि किए जाने के बाद परिवार के सदस्य विवाह प्रमाण पत्र ले सकते हैं। अदालत ने व्यवस्था दी, ‘‘बदलते समय में कानून का दायरा बढ़ाया जाना चाहिए।’’ अदालत ने यह भी कहा कि दुनिया में बदलाव हुए हैं और हमारा मत है कि आज की दुनिया ‘अकल्पनीय’ है और संभवत: कानून बनाने वालों की ‘समझ से बहुत आगे भी है।’

 

अदालत रविंदर चड्ढा नाम के एक व्यक्ति की याचिका पर सुनवाई के दौरान यह व्यवस्था दी। याची ने कनाडा में रह रही अपनी बेटी और दामाद को विवाह पंजियन के लिए सदेह उपस्थिति से छूट देने की मांग करते हुए वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से उपस्थिति की गुजारिश की थी।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You