पानी के लिए राजनीति जरूरी: राजेंद्र सिंह

  • पानी के लिए राजनीति जरूरी: राजेंद्र सिंह
You Are HereNational
Monday, February 17, 2014-12:15 PM

भोपाल: देश में जलपुरुष के नाम से पहचान बना चुके मैगसेसे पुरस्कार प्राप्त राजेंद्र सिंह का मानना है कि अब पानी के लिए राजनीति करना जरूरी हो गया है, यह राजनीति किसी राजनीतिक दल के लिए नहीं बल्कि पानी की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए चुनकर जाने वाले संसदों पर दबाव बनाने के लिए होगी। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में प्रवास पर आए सिंह ने संवाददाताओं से चर्चा करते हुए कहा कि देश में खाद्य सुरक्षा से पहले पानी की सुरक्षा तय किया जाना जरूरी है।

 

लोगों को पीने के लिए शुद्ध पानी मिले और जलस्त्रोतों में गंदगी न मिले इसके लिए आवश्यक कदम उठाना होंगे। उन्होंने आगे कहा कि उनकी कोशिश होगी कि मतदाताओं का साथ ऐसे उम्मीदवारों को मिले जो पानी और प्रकृति से प्यार करते हों। इसी को ध्यान में रखकर जल-जन जोड़ो अभियान के तहत आगामी लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखकर विश्वविद्यालयों के राष्ट्रीय सेवा योजना के अलावा सामाजिक कार्यों से जुड़े युवाओं के जनउभार को प्रशिक्षित करने का कार्यक्रम बनाया है। इसे नाम दिया गया है लोकादेश-2014, सिंह ने अपनी कार्ययोजना का खुलासा करते हुए बताया कि लोकादेश 2014 के तहत देश के 200 लोकसभा क्षेत्रों में पानी और पर्यावरण के प्रति संवेदनशील बनाने के लिए संवाद स्थापित करने के साथ जन जागरुकता अभियान चलाया जाएगा।

 

युवाओं को प्रशिक्षित कर आम मतदाताओं को जागृत करने की जिम्मेदारी सौंपी जाएगाी। देश में पेयजल सुरक्षा कानून बनाने का प्रारूप भी तैयार कर लिया गया है। जिसे 18 फरवरी को दिल्ली में जारी किया जाएगा। सिंह कहते हैं कि उनकी मंशा है कि भारतीय संविधान के मुताबिक आम नागरिक के लिए पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित की जाए। जल पर सामुदायिक संवैधानिक अधिकार तय किया जाए। जल स्त्रोतों में गंदगी न मिले। इसके अलावा नदी का प्रवाह अविरल बना रहे। साथ ही भूमिगत, सतही जल का प्रबंधन तय हो।

 

इस मौके पर जल-जन जोड़ो अभियान के राष्ट्रीय संयोजक संजय सिंह ने कहा कि देश में इन दिनों पानी के निजीकरण की मुहिम चली हुई है जो आम आदमी के जीवन को संकट में डालने वाली है। इसलिए जरूरी हो गया है कि सरकार जल सुरक्षा कानून को अमल में लाए, क्योंकि खाद्यन्न से पहले पानी की जरुरत है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You