तेलंगाना बनाने में ‘सोनियाअम्मा’ के साथ ‘चिन्नमम्मा’ को न भूलें: सुषमा

  • तेलंगाना बनाने में ‘सोनियाअम्मा’ के साथ ‘चिन्नमम्मा’ को न भूलें: सुषमा
You Are HereNational
Tuesday, February 18, 2014-7:36 PM

नई दिल्ली: भाजपा के सहयोग से लोकसभा मे आज तेलंगाना विधेयक पारित होने से खुश विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज ने आज कहा कि इस ऐतिहासिक उपलब्धि के लिए ‘सोनियाम्मा’ के साथ ‘चिन्नम्मा’ को नही भूलें। तेलंगाना विधेयक पारित होने का स्वागत करने के साथ ही सुषमा ने कांग्रेस द्वारा भाजपा पर लगाये गए ‘‘दोहरी चाल चलने’’ के आरोपों पर गहरी आपत्ति व्यक्त की और सत्तारूढ़ पार्टी को याद दिलाया कि भाजपा के समर्थन के बिना यह विधेयक पारित ही नहीं हो सकता था। मुख्य विपक्षी पार्टी ने कहा कि राज्यसभा में विधेयक के आने पर भाजपा इसमें संशोधन पेश करेगी।  लोकसभा में विपक्ष की नेता सुषमा स्वराज ने संवाददाताओं से कहा, ‘‘ लोकसभा में यह विधेयक पारित हुआ यह स्वागतयोग्य एवं ऐतिहासिक घटनाक्रम है। लेकिन इस पर हमारे इतने समर्थन के बावजूद वे (कांग्रेस) जिस तरह की बात कह रहे हैं, वह ठीक नहीं है।’’

इससे पहले लोकसभा में भाजपा के सहयोग से विधेयक के पारित होने पर सुषमा ने कहा, ‘‘ विधेयक पारित होने के बाद , आप सोनिया गांधी को श्रेय दे रहे हैं लेकिन ‘सोनियाअम्मा के साथ ‘चिन्नमम्मा ’’  (छोटी मां) को नहीं भूलें।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ हमने श्रेय लेने के लिए कुछ भी नहीं किया बल्कि यह हमारी पार्टी की प्रतिबद्धता थी। हमें कांग्रेस की मंशा का पहले से पता था कि वे चुनावी फायदे के लिए ऐसा कर रही है फिर भी हमने प्रतिबद्धता के कारण इसका समर्थन किया। अब श्रेय किसे मिलेगा यह इतिहास तय करेगा।’’ भाजपा नेता ने कहा, ‘‘ क्या भाजपा के समर्थन के बिना यह विधेयक पारित हो सकता था ? अगर भाजपा समर्थन नहीं करती तब क्या कांग्रेस चाहकर भी इस विधेयक को पारित करा सकती थी ?। संसदीय कार्य मंत्री के भाजपा के ‘दोहरी चाल (डबल गेम)’ खेलने के बारे में पूछे जाने पर सुषमा ने कहा, ‘‘ डबल गेम कमलनाथ का तकिया कलाम बन गया है। वे अपने दोनों हाथों में लड्डू रखना चाहते हैं। कांग्रेस डबल गेम खेल रही है।’’


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You