बिन्नी की याचिका पर कल जवाब दें विधानसभा अध्यक्ष: HC

  • बिन्नी की याचिका पर कल जवाब दें विधानसभा अध्यक्ष: HC
You Are HereNational
Tuesday, February 18, 2014-10:11 PM

नई दिल्ली: दिल्ली उच्च न्यायालय ने आज आम आदमी पार्टी के निष्कासित विधायक विनोद कुमार बिन्नी की एक याचिका पर दिल्ली विधानसभा के अध्यक्ष से कल तक जवाब मांगा। बिन्नी ने अनुरोध किया कि उन्हें निर्दलीय विधायक घोषित किया जाए ताकि वह पार्टी व्हिप के अधीन नहीं हों। हालांकि न्यायमूर्ति मनमोहन ने कहा कि वह उच्चतम न्यायालय के 2010 के उस फैसले को ध्यान में रखकर आदेश देना चाहते हैं जिसमें पार्टी से निष्कासन के बाद सपा नेताओं अमर सिंह और जयाप्रदा को सांसद के तौर पर अयोग्यता से बचाया गया था।

लक्ष्मी नगर से विधायक बिन्नी ने दिल्ली विधानसभा अध्यक्ष एमसी धीर के इस नजरिये को चुनौती दी है कि पार्टी से निष्कासन के बावजूद, वह आप सदस्य हैं और वह पार्टी व्हिप के अधीन हैं। आप के पूर्व सदस्य ने विधानसभा अध्यक्ष के नजरिये को ‘‘पूरी तरह से अवैध, भेदभावपूर्ण और पूर्वाग्रह से ग्रस्त’’ बताया। बिन्नी की ओर से पेश अधिवक्ता राहुल राज मलिक ने कहा कि जब आप ने उनसे खुद से संबंध तोड़ दिये तो वह पार्टी के निर्देशों के अधीन कैसे हो सकते हैं।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You