कौन संभालेगा प्रदेश भाजपा की कमान!

  • कौन संभालेगा प्रदेश भाजपा की कमान!
You Are HereNational
Wednesday, February 19, 2014-12:27 AM

 नई दिल्ली(धनंजय कुमार): भाजपा का राष्ट्रीय नेतृत्व प्रदेश के करीब सभी बड़े नेताओं से प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी संभालने के लिए संपर्क कर चुका है लेकिन सभी नेता हाथ जोड़कर पीछे हटे जा रहे हैं। 

नतीजा, इस पद को लेकर पार्टी का राष्ट्रीय नेतृत्व दुविधा में पड़ चुका है क्योंकि राज्यसभा सदस्य बनने के बाद विजय गोयल प्रदेश अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे चुके हैं और दूसरा नेता इस पद को संभालने के लिए तैयार नहीं है।

सोचा जा रहा है कि लोकसभा चुनाव तक गोयल को ही इस पद पर बनाए रखा जाए, तो दूसरे गुट का मानना है कि यदि गोयल को इस पद पर बनाए रखा जाए तो लोकसभा चुनाव की तैयारियों को वह अपेक्षित समय नहीं दे पाएंगे। भाजपा सूत्रों की मानें तो आप के बढ़ते प्रभाव के कारण प्रदेश अध्यक्ष का पद संभालना बेहद ही चुनौती भरा है और चुनाव में अगर खराब प्रदर्शन किया तो भावी प्रदेश अध्यक्ष को भाजपा के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी के नाराजगी का भी सामना करना पड़ सकता है। 

ऐसी स्थिति में अपनी तरफ से भाजपा का कोई भी दिग्गज नेता इस पद को संभालने के लिए आगे नहीं बढ़ रहा है। अब देखना यह होगा कि पार्टी आलाकमान किसे इस पद पर नियुक्त करती है क्योंकि विजय गोयल पिछले वर्ष फरवरी महीने में ही प्रदेश अध्यक्ष नियुक्त किए गए थे। उनका 3 साल का कार्यकाल भी पूरा नहीं हुआ है लेकिन पार्टी उन्हें राज्यसभा से सांसद बनाकर यह संकेत पहले ही दे चुकी है कि प्रदेश अध्यक्ष के पद पर किसी दूसरे को नियुक्त किया जाएगा। 
 
पार्टी में एक व्यक्ति 2 पद पर रहने का भी प्रावधान नहीं है। इसलिए पार्टी के बड़े नेता इस पद के लिए कई नामों पर विचार कर रहे हैं। 
जिसमें दिल्ली विधानसभा नेता प्रतिपक्ष डॉ. हर्षवर्धन का नाम सबसे ऊपर था लेकिन उन्होंने इस पद को संभालने से मना कर दिया है। इसके बाद आशीष सूद, सतीश उपाध्याय, पवन शर्मा समेत कई नामों पर भाजपा नेताओं ने चर्चा की। लेकिन लोकसभा चुनाव को देखते हुए पार्टी किसी अनुभवी नेता को प्रदेश का प्रभार देना चाह रही है लेकिन कोई भी अनुभवी नेता सामने नजर नहीं आ रहा है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You