अकालियों ने फूंका चुनाव का ‘बिगुल’

  • अकालियों ने फूंका चुनाव का ‘बिगुल’
You Are HereNational
Wednesday, February 19, 2014-12:39 AM
नई दिल्ली,(सुनील पाण्डेय): दिल्ली  में अरविंद केजरीवाल सरकार के सत्ता छोडऩे के बाद बदले राजनीतिक हालात पर कांग्रेस-भाजपा ही नहीं शिरोमणि अकाली दल (बादल) भी एलर्ट हो गई है। अब तक लोकसभा चुनावों की तैयारियों में जुटी अकाली दल अब संभावित विधानसभा चुनावों को लेकर भी तैयारी शुरू कर दी है।
 
इसको लेकर पार्टी की दिल्ली प्रादेशिक इकाई ने आज विशेष बैठक बुलाई। बैठक में दिल्ली  सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के चुनाव में जीते एवं हारे सभी पदाधिकारी, दिल्ली  नगर निगम के पार्षद, हारे  हुए पार्षद प्रत्याशी, विधायक, सर्कल जत्थेदार सहित सभी वरिष्ठ नेताओं को बुलाया गया। 
 
इस दौरान शिरोमणि अकाली दल के प्रदेश के अध्यक्ष एवं दिल्ली  सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के चेयरमैन मंजीत सिंह जीके ने दिल्ली  में फिर से विधानसभा चुनाव होने की संभावनाओं के कारण कार्यकर्ताओं को कमर कसने का आदेश दिया। साथ ही कहा कि वह गुरुद्वारा कमेटी के किए कार्यो को घर-घर लेकर जाएं।
 
जी.के .ने  एक तरह से विधानसभा एवं लोकसभा दोनों चुनावों का गुपचुप तरीके से बिगुल फूंक दिया। इस मौके पर वरिष्ठ नेता अवतार सिंह हित, ओंकार सिंह थापर, रविंदर सिंह खुराना, कुलमोहन सिंह, परमजीत सिंह राणा, स्त्री अकाली दल की अध्यक्ष बीबी मनदीप कौर बख्शी, दिल्ली  कमेटी सदस्य हरविन्दर सिंह के.पी., कुलदीप सिंह साहनी, सतपाल सिंह, परमजीत सिंह चंढोक, हरदेव सिंह धनोआ, चमन सिंह, गुरमीत सिंह मीता, कैप्टन इन्द्रप्रीत सिंह, अमरजीत सिंह पप्पू, गुरबख्श सिंह मौन्टूशाह, हरजिन्दर ंसिंह, रवेल सिंह, निगम पार्षद रितू वोहरा, श्याम शर्मा, रजिन्दर सिंह राजवंशी, पी.एस. चिमनी, मनजीत सिंह औलख, जतिन्दर सिंह साहनी आदि मौजूद थे। 
 
बता दें कि अकाली दल की स्थानीय ईकाई लोकसभा चुनावों में कमेटी के चेयरमैन मंजीत सिंह जी.के. के लिए भाजपा से पश्चिमी दिल्ली  लेाकसभा सीट मांग रही है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You