सांसदों से दुव्र्यवहार करने वाले पुलिस कर्मियों के विरूद्ध होगी कार्रवाई

  • सांसदों से दुव्र्यवहार करने वाले पुलिस कर्मियों के विरूद्ध होगी कार्रवाई
You Are HereNcr
Wednesday, February 19, 2014-1:56 PM

नई दिल्ली: सरकार ने पूर्वोत्तर क्षेत्र के छात्रों के खिलाफ पुलिस की कथित बर्बरता और उसे रोकने वाले सांसदों के साथ दुव्र्यवहार किए जाने की कड़ी भत्र्सना करते हुए आज कहा कि दोषी पुलिसकर्मियों के विरूद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी। माकपा के एम बी राजेश ने इस बारे में लोकसभा में विशेषाधिकार का मामला उठाते हुए संबंधित पुलिसकर्मियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई करने की मांग की। लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने सदन की ओर से घटना की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि सांसदों, पूर्वोत्तर क्षेत्र के लोगों तथा महिलाओं के साथ किसी तरह के दुव्र्यहार को कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

उन्होंने कहा, सांसदों, पूर्वोत्तर के लोगों और महिलाओं की सुरक्षा एवं गरिमा की हर हाल में रक्षा की जाएगी। उन्होंने संबंधित सदस्य से कहा कि वह अपनी शिकायत लिखित में दें और उस पर वह कड़ी कार्रवाई करेंगी। संसदीय कार्य मंत्री कमलनाथ ने सदन को आश्वासन दिया कि इस घटना के लिए जो भी पुलिसकर्मी जिम्मेदार हैं उनके विरूद्ध सख्त कार्रवाई होगी। उन्होंने कहा कि यह सदन सर्वसम्मति से पूर्वोत्तर के लोगों की सुरक्षा पर अपनी हिमायत जता चुका है और सरकार ऐसी घटनाओं को बर्दाश्त नहीं करेगी।

उन्होंने कहा कि वह गृह मंत्री से इस मामले में कड़ी कार्रवाई करने का आग्रह करेंगे। राजेश ने इस मामले को उठाते हुए सदन को बताया कि 14 फरवरी को वह वि_ल भाई पटेल हाउस स्थित अपने आवास से बाहर कार की प्रतीक्षा कर रहे थे कि तभी उन्होंने देखा कि पुलिस पूर्वोत्तर के छात्रों के साथ दुव्र्यवहार कर रही है और पीट रही है। उन्होंने बताया कि उनके और राज्यसभा के सदस्य एम पी अच्युतन ने जब मामले में हस्तेक्षप किया तो पुलिस ने दोनों सांसदों को अपशब्द कहे और कालर पकड़ कर पीटा भी तथा जबर्दस्ती थाने ले गए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You