तीन दिन में राय नहीं दी तब रिहा होंगे राजीव गांधी के हत्यारे: जयललिता

  • तीन दिन में राय नहीं दी तब रिहा होंगे राजीव गांधी के हत्यारे: जयललिता
You Are HereNational
Thursday, February 20, 2014-10:18 AM

चेन्नई: पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी के तीन हत्यारों की फांसी की सजा आजीवन कारावास में तब्दील करने के उच्चतम न्यायालय के आदेश के दूसरे दिन आज तमिलनाडु सरकार ने अप्रत्याशित कदम उठाते हुये इन तीनों समेत देश को दहला देने वाले इस हत्यांकाड के सभी सात दोषियों की रिहा करने का फैसला किया है।

दरअसल, इन तीनों पुरुष दोषियों की फांसी की सज़ा को सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को ही उम्रकैद में तब्दील किया था, और यह फैसला राज्य सरकार पर छोड़ दिया था कि वह दोषियों को रिहा करना चाहती है या नहीं। तमिलनाडु की मुख्यमंत्री जयललिता ने अपने मंत्रिमंडल के साथ मंगलवार सुबह बैठक की, जिसमें सातों दोषियों को रिहा करने का फैसला किया गया।

बताया जा रहा है कि केंद्र सरकार से तमिलनाडु सरकार ने साफ कर दिया है कि यदि स बारे में अपनी राय से राज्य सरकार को अवगत नहीं कराता है तब राज्य सरकार सभी दोषियों को रिहा कर देगी। वहीं केंद्र सरकार के सूत्रों का कहना है कि राजीव गांधी के हत्यारों को रिहा नहीं किया जा सकता।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You