वंसुधरा ने पिछली सरकार पर बजट कम रखने के लगाए आरोप

  • वंसुधरा ने पिछली सरकार पर बजट कम रखने के लगाए आरोप
You Are HereNational
Thursday, February 20, 2014-4:11 PM

जयपुर: राजस्थान की मुख्यमंत्री वंसुधरा राजे ने कुशल वित्तीय प्रबंधन और सर्वांगीण विकास के लिए प्रतिबद्धता जताते हुए आरोप लगाया कि पिछली सरकार ने राजस्व आधिक्य और बजटीय घाटे का अनुमान जान बूझकर गलत लगाने के साथ सामाजिक पेंशन योजनाओं का बजट कम रखा गया था।

वर्ष 2014-15 के लेखानुदान पेश करते हुए राजे ने कहा कि पूर्व सरकार ने 2013-14 बजट अनुमानों के अनुसार 1025 करोड़ 86 लाख रुपए का राजस्व आधिक्य और 13 हजार 19 करोड 86 लाखका बजटीय घाटा अनुमानित किया था। राजस्व आधिक्य और बजटीय घाटे का अनुमान जानबूझकर त्रूटिपूर्ण रप से किया गया था।
 
उन्होंने कहा कि उदाहरण के लिए सामाजिक पेंशन के तहत बजट अनुमान मात्र 710 करोड रुपए रखा गया था। बजट प्रस्तुत करते समय घोषणा की गई कि 1500 करोड रपए का अतिरिक्त प्रावधान किया जाएगा। यदि 1500 करोड़ रुपए के अतिरिक्त भार का प्रावधान बजट में ही कर दिया जाता तो राजस्व आधिक्य 1025 करोड़ रुपए के स्थान 475 करोड़ रुपए के राजस्व घाटे में बदल जाता।

राजे ने कहा पेंशन के लिए कुल प्रावधान दो हजार 175 करोड रुपए रखा गया। वास्तव में पेंशन योजना पर व्यय 2540 करोड रुपए होगा। जिसका प्रावधान हमने संशोधित अनुमानों में किया हैं।  इस वित्त वर्ष की तीसरी तिमाही में होने वाले चुनाव के मद्देनजर गत राज्य सरकार ने अनेक योजनाओं की घोषणाएं आनन फानन में की जिन्हें क्रियान्वित करने के लिए 14 हजार करोड़ रुपए की अतिरिक्त स्वीकृति बजट से परे की गई। इन घोषणाओं एवं कार्यक्रम के परिणामस्वरप राजस्व आधिक्य का राजस्व घाटे में बदलना निश्चित था तथा बजटीय घाटा भी तीन प्रतिशत की सीमा से अधिक पहुंचना ही था।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You