तेलंगाना पर कांंग्रेस के साथ कोई मैच फिक्सिंग नहींं: नायडु

  • तेलंगाना पर कांंग्रेस के साथ कोई मैच फिक्सिंग नहींं: नायडु
You Are HereNational
Thursday, February 20, 2014-10:28 PM

नई दिल्ली: संसद मेंं तेलंंगाना विधेयक विधेयक पारित कराने के लिए कांग्रेस के साथ ‘‘मैच फिक्सिंग’’ के आरोपों को खारिज करते हुए भाजपा ने आज वाम और तृणमूल कांग्रेस पर पलटवार किया और कहा कि वे संप्रग सरकार के ‘‘भ्रष्टाचार के साथी’’ थे। आंध्र प्रदेश पुनर्गठन विधेयक के पारित होने पर भाजपा नेता एम. वेंकया नायडु ने संंवाददाताओं से कहा, ‘‘वह कहते हैं कि मैच फिक्सिंग हुई है, जैसेे कि भाजपा संप्रग सरकार का हिस्सा हो। वाम संप्रग-1 मेंं सहयोगी था और तृणमूल कांंग्रेस तो हाल तक संपग्र में था। वह भ्रष्टाचार के सहयोगी थे।’’

उन्होंंने कहा कि सीमान्ध्र क्षेत्र के लिए विशेष पैकेज सहित भाजपा ने कई मुद्दे उठाए हैं। उन्होंंनेे कहा, ‘‘सरकार ने हमेंं संतुष्ट करने का प्रयास किया है। विधेयक में कुुछ खामियां हैं। लेकिन अगले दो महीने में भाजपा के सत्ता मेंं आनेे पर उन्हें सुधार लिया जाएगा।’’ विधेयक पर चर्चा के दौरान राज्यसभा मेंं प्रदर्शन करने वाले तृणमूल कांग्रेस का कहना है, ‘‘लोकसभा द्वारा विधेयक के जिस रूप और सामग्री को पारित किया गया है वह अवैध है।’’

तृणमूल सांसद डेरेक ओ’ब्रायन ने संसद से बाहर कहा, ‘‘हमने अपनी आपत्तियोंं पर राज्यसभा सभापति (हामिद अंसारी) को सुबह पत्र सौंपा।’’ तेलंगाना पर हुए निर्णय का गोरखालैंड मामले पर पडऩे वाले प्रभाव को लेेकर तृणमूल चिंतित है। पश्चिम बंगाल का यह पहाड़ी इलाका लंंबे समय से पृथक राज्य के दर्जे की मांंग कर रहा है। इसी तरह महाराष्ट्र में शिवसेना ने राज्य के प्रस्तावित विभाजन का विरोध किया था। यहां भी पृथक विदर्भ राज्य की मांग की जा रही है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You