माकपा ने केजरीवाल को आड़े हाथों लिया

  • माकपा ने केजरीवाल को आड़े हाथों लिया
You Are HereNational
Friday, February 21, 2014-1:42 AM
नई दिल्ली : माक्र्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी माकपा ने आप नेता अरविंद केजरीवाल की इस टिप्पणी के लिए उन्हें आड़े हाथ लिया कि सरकार की कारोबार में कोई दिलचस्पी नहीं है। येचुरी ने कहा कि यह नारा मूल रूप से ब्रिटेन की दिवंगत प्रधानमंत्री मार्गेट थैचर ने अपने देश में कई सार्वजनिक सेवाओं का निजीकरण करने के पहले दिया था। 
 
माकपा नेता सीताराम येचुरी ने यहां संवाददाताओं से कहा कि आप को अचानक थैचर की टिप्पणी में बुद्धिमत्ता नजर आने लगी और वह इसे खुद का सृजन बता रही है। आप को ध्यान रखना चाहिए कि थैचर की नव उदारवादी नीतियों के कारण औद्योगिक क्रांति की जननी मानी जाने वाला ब्रिटेन आज सेफ्टी पिन भी नहीं बनाता है। येचुरी की टिप्पणी उनकी पार्टी के महासचिव प्रकाश कारात की इस बात के एक दिन बाद बाद आयी है कि सब कुछ निजी क्षेत्र पर छोड़ देना नव उदारवादी नजरिया है। कारात ने कहा था कि इस योग्यता को मानें तो कारोबार और आॢथक गतिविधि के हर क्षेत्र को निजी हाथों में होना चाहिए और बाजार से संचालित होना चाहिए। 
 
यहां तक कि बिजली आपूर्ति, पानी, सार्वजनिक परिवहन जैसी मूलभूत सेवाएं भी निजी क्षेत्र को चलानी चाहिए। उच्चतम न्यायालय द्वारा अंतर-जातीय विवाह पर दिए  गए निर्णय पर खाप पंचायत नेताओं के विरोध पर टिप्पणी पूछने पर येचुरी ने आप की ङ्क्षनदा करते हुए कहा कि आप ने ही इन खाप पंचायतों के प्रमुखों को आमंत्रित किया, जबकि ये पंचायतें जनता के संवैधानिक अधिकारों का उल्लंघन कर रही हैं।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You