तेलंगाना विधेयक पारित होते ही संसद भवन के बाहर जश्न का माहौल

  • तेलंगाना विधेयक पारित होते ही संसद भवन के बाहर जश्न का माहौल
You Are HereNational
Friday, February 21, 2014-9:52 AM

नई दिल्ली: भारत के 29 वें राज्य के तौर पर तेलंगाना के गठन को मंजूरी देने के लिए तेलंगाना विधेयक के पारित होने के बाद क संसद भवन के बाहर जश्न का माहौल छा गया और तेलंगाना समर्थकों ने नारे लगाते हुए एक दूसरे को बधाई दी तथा मिठाई बांटी।
   
केंद्रीय मंत्री एस जयपाल रेड्डी और सांसद हनुमंतराव महात्मा गांधी की प्रतिमा के पास आ गए और नए राज्य के गठन के लिए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को बधाई दी।
   
रेड्डी ने संवाददाताओं से कहा‘इस ऐतिहासिक पल का श्रेय सिर्फ और सिर्फ कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को जाता है। भाजपा कह सकती है कि हमने भी वोट दिया। हम सभी जानते हैं कि कितनी अनिच्छा से, उन्होंने मतदान किया।’   
   
उन्होंने कहा,‘सोनिया ने सबसे बड़ा जोखिम लिया और सीमांध्र क्षेत्र में अपनी लोकप्रियता और अपने आधार को खतरे में डाला।’ रेड्डी ने कहा कि वह सीमांध्र के लोगों को यह समझाने के लिए तैयार हैं कि उन्हें विभाजन से कितना लाभ होगा और कोई नुकसान नहीं होगा।
   
दूसरी ओर राव सांसदों और प्रतीक्षारत मीडियाकर्मियों को मिठाई बांटते देखे गए। राज्यसभा से सदस्य जैसे ही बाहर निकले संसद के सभी द्वारों से‘जय तेलंगाना’का उद्घोष सुनाई दिया।
   
संसद ने आज ऐतिहासिक तेलंगाना विधेयक को ध्वनि मत से मंजूरी दे दी। हालांकि सीमांध्र क्षेत्र, तृणमूल कांग्रेस और शिवसेना के सदस्यों ने इसका पुरजोर विरोध किया।



 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You