राजनीतिक मतभेदों से उपर उठकर सद्भाव बने: मनमोहन

  • राजनीतिक मतभेदों से उपर उठकर सद्भाव बने: मनमोहन
You Are HereNational
Friday, February 21, 2014-5:53 PM

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने 15 वीं लोकसभा के दौरान संसद में उत्पन्न तनावपूर्ण स्थितियों पर चिंता जताते हुए कहा कि इसके बावजूद इस लोकसभा ने देश को खाद्य सुरक्षा विधेयक और तेलंगाना विधेयक जैसे अत्यंत महत्वपूर्ण विधेयक देश की जनता को दिया है। 

प्रधानमंत्री ने 15 वीं लोकसभा के आखिरी सत्र के अंतिम दिन कहा कि तमाम तरह के विरोधों के बावजूद तेलंगाना राज्य के निर्माण के लिए आंध्र प्रदेश पुनर्गठन विधेयक का पारित होना इस बात का प्रमाण है कि हमारा देश तमाम चिंताओं और विरोधों के बावजूद अत्यंत महत्वपूर्ण एवं कठोर निर्णय ले सकता है।

 डा. मनमोहन सिंह ने कहिा कि अब हम वैसे चरण में जा रहे हैं जहां देश की जनता हमारी कमजोरियों एवं उपलब्धियों का आकलन करते हुए अपना निर्णय सुनायेगी और उससे आगे बढने का एक नया मार्ग खुलेगा।

उन्होंने कहा कि संसदीय प्रणाली में विभिन्न दलों में मतभेद स्वाभाविक है लेकिन इसके बावजूद हमें ऐसे रास्ते निकालने होते हैं ताकि हम सभी एकता और सद्भाव के साथ आगे बढ सके। उन्होंने कहा कि कुछ महत्वपूर्ण मामलों में हमें दलगत राजनीति को परे रखकर आगे बढाना होता है।  प्रधानमंत्री ने कहिा कि खाद्य सुरक्षा विधेयक का पारित होना मील का पत्थर है जिसने वंचित लोगों और लाखों किसानों के मन में उम्मीद जतायी है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You