उत्तराखंड के लोगों को नुकसान नहीं होने देंगे: उमा

  • उत्तराखंड के लोगों को नुकसान नहीं होने देंगे: उमा
You Are HereNational
Saturday, February 22, 2014-7:24 PM

नई दिल्ली: गंगा के अविरल एवं निर्मल प्रवाह के लिए अभियान चला रही भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की उपाध्यक्ष उमा भारती ने आज कहा कि इसकी खातिर उत्तराखंड में गंगा एवं सहायक नदियों से अगर कोई परियोजना हटाई जाएगी तो राज्य के निवासियों के लिए उसकी भरपाई पहले सुनिश्चित की जाएगी। भारती ने यहां जंतर मंतर पर गंगा को प्रदूषण मुक्त बनाने के लिए संघर्षरत स्वामी ज्ञानस्वरप सानंद के गंगा मिशन द्वारा साधु संतों की सभा को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तराखंड के लोगों को कई लोग बरगला रहे हैं कि गंगा अभियान के जरिए परियाजनाएं रद्द करके उत्तराखंड को अंधेरे में रखने की साजिश की जा रही है।

भारती ने कहा कि मोटे अनुमान के अनुसार इसके लिए 700 मेगावाट की परियोजनाएं रद्द करनी होगी। लेकिन इन परियोजनाओं को हटाने के पहले यह सुनिश्चित किया जाएगा कि उत्तराखंड को राष्ट्रीय ग्रिड से 700 मेगावाट अतिरिक्त बिजली उपलब्ध हो। उन्होंने कहा कि वह यह कभी नहीं चाहेंगी कि उत्तराखंड के लोगों को कोई हानि हो। गंगा मां है और उत्तराखंड के लोग गंगा की संतान के समान हैं। लेकिन बच्चों को भी सोचना चाहिए कि मां दूध पिलाती है तो मां भी स्वस्थ रहती हैं और बच्चा भी बढ़ता है। लेकिन बच्चा अगर मां का खून पीने लगे तो ना मां बचेगी और ना बच्चा बचेगा। भारती ने कहा कि उन्होंने अपने अभियान में राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और सभी सांसदो से संपर्क किया था तथा सभी गंगा को निर्मल बनाने के लिए प्रतिबद्धता जाहिर कर चुके है।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You