अच्छे व बड़े स्कूलों में दाखिला दिलाने के नाम पर ठगी, ट्यूटर गिरफ्तार

  • अच्छे व बड़े स्कूलों में दाखिला दिलाने  के नाम पर ठगी, ट्यूटर गिरफ्तार
You Are HereNational
Sunday, February 23, 2014-12:17 AM

नई दिल्ली :जिला के सफदरजंग थाना पुलिस ने एक ऐसी महिला ट्यूटर को गिरफ्तार किया है,जो अभिभावको को अच्छे व बड़े स्कूलों में दाखिला दिलाने के नाम पर ठगी करती थी। दाखिला दिलाने के नाम पर उसने कई लोगों को अपने झांसे में ले रखा था। गिरफ्तार महिला की पहचान सुजाता बरुआ भट्टाचार्या के रूप में हुई है। वह मूलरुप से कोलकाता की रहने वाली है। 

पुलिस ने बताया कि सुजाता कृष्णा नगर, सफदरजंग इंक्लेव में परिवार के साथ रहती है और ट्यूशन पढ़ाने का काम करती है। बच्चों के अभिभावक बैंजामिन जोसफ भी कृष्णा नगर, सफदरजंग में परिवार के साथ रहते हैं। वह प्राईवेट नौकरी करते है। सुजाता, बैंजामिन की परिचित बी ब्लॉक कृष्णा नगर में रहने वाली बबीता के घर उनके बच्चों को ट्यूशन पढ़ाने जाती थी।

वहीं पर बैंजामिन का सुजाता से परिचय हुआ था। उसने अपना परिचय विवेकानंद कॉलेज में लैक्चरर के रूप में दिया था। उसने यह भी बताया कि वह दिल्ली पब्लिक स्कूल आरकेपुरम के मैनेजमेंट में है। अगर वह अपने बच्चों का वहां पर दाखिला कराने चाहते हैं तो गरीबी रेखा वाले में कम पैसे में दाखिला हो जाएगा।

यह बात सुनकर बैंजामिन उसकी बातों में आ गया। उसके बाद बैंजामिन ने एक बेटा व एक बेटी के दाखिला के लिए लिए सुजाता से बात कर उसे 42 हजार रुपए दे दिए। 17 फरवरी को पैसा देने के बाद सुजाता ने उन्हें 19 फरवरी को रसीद सौंप दी। लेकिन बच्चों का एडमिशन नहीं हुआ। शक होने पर बैंजामिन जब कोर्ट व स्कूल में जाकर जांच की तब पता चला कि सुजाता ने फर्जीवाड़ा किया है। उसके बाद उन्होंने सफदरजंग इंक्लेव थाने में मुकदमा दर्ज करवा दिया।

थानाध्यक्ष राम सिंह के नेतृत्व मं एसआई जयनेंद्र ने नकली अभिभावक बनकर पहले सुजाता से दाखिला की डील की। उसके बाद गिरफ्तार कर लिया। जांच से पता चला है कि सुजाता को दाखिला के नाम पर फर्जीवाड़ा करने के आरोप में शकरपुर थाना पुलिस ने भी अगस्त में गिरफ्तार कर चुकी है। 

 


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You