पत्नी को देखा था आपत्तिजनक अवस्था में, इसलिए की हत्या

  • पत्नी को देखा था आपत्तिजनक अवस्था में, इसलिए की हत्या
You Are HereNational
Sunday, February 23, 2014-12:55 AM
नई दिल्ली: अभियुक्त ने अपनी पत्नी को किसी अन्य व्यक्ति के साथ आपत्तिजनक अवस्था में देख था, इसलिए उसने योजना बनाई और इस घटना के एक दिन बाद ही उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। यह टिप्पणी करते हुए दिल्ली उच्च न्यायालय ने अपनी पत्नी की हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा पाए अभियुक्त अमरूद्दीन को राहत देने से इंकार कर दिया है।  
 
न्यायमूर्ति  कैलाश गंभीर व न्यायमूर्ति सुनीता गुप्ता ने  अमरूद्दीन की याचिका को खारिज करते हुए कहा कि उसे निचली अदालत ने उम्रकैद की सजा देकर कुछ गलत नहीं किया है। यह हत्या एकदम से आए गुस्से का नतीजा नहीं थी, बल्कि पूरी योजना बनाकर इसे अंजाम दिया गया था। अमरूद्दीन ने खुद अपने इकबालिया बयान में भी बताया है कि 21 दिसम्बर 2009 की रात उसने अपनी पत्नी को एक आदमी के साथ आपत्तिजनक अवस्था में देख लिया था।
 
इसी कारण उसने योजना बनाई और अगले दिन उसकी हत्या कर दी। यह बात अन्य सुबूतों से भी साबित हुई है। ऐसे में अमरूद्दीन के प्रति कोई नरमी नहीं बरती जा सकती है। निचली अदालत ने अमरूद्दीन को उसकी पत्नी की हत्या के मामले में उम्रकैद व 10 हजार रुपए जुर्माने की सजा दी थी। जिसे उसने उच्च न्यायालय में चुनौती दी थी।
 
पुलिस के अनुसार 22 दिसम्बर 2009 को चांदनी चौक इलाके में एक किराए के मकान में एक महिला रेहाना का शव मिला था। उसके 14 साल के बेटे ने पुलिस को इस मामले में बयान दिया। उसने बताया कि वह अपने भाई के साथ खाना लेने गया था और घर पर उसका पिता व मां अकेले थे। जब वह आए तो उनकी मां मरी पड़ी थी, जबकि उनका पिता घर पर नहीं था।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You