हीरा भंडारों की सुरक्षा के लिए केंद्रीय बलों की तैनाती: रमन

  • हीरा भंडारों की सुरक्षा के लिए केंद्रीय बलों की तैनाती: रमन
You Are HereNational
Monday, February 24, 2014-3:42 PM

रायपुर: छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री डा.रमन सिंह ने आज कहा कि गरियाबन्द जिले के मैनपुर इलाके में हीरा भंडारों की सुरक्षा के लिए राज्य पुलिस के साथ ही केंद्रीय सुरक्षा बलों की भी तैनाती की गई है। डा.सिंह ने आज प्रश्नोत्तरकाल में भाजपा के गोवर्धन मांझी के प्रश्नों के उत्तर में कहा कि मैनपुर के बेहराडीह, पायलीखण्ड, कोदोमाली एवं जागंडा क्षेत्र में किंबरलाइट तथा सेन्दुमुडा में अलेक्जेण्ड्राराइट खनिज के भंडार है। इस क्षेत्र को सुरक्षा की दृष्टि से बारबेड वायर से घेर दिया गया है तथा पुलिस द्वारा नियमित गश्त की जाती है।

 

उन्होंने बताया कि पायलीखंड में राज्य पुलिस के अलावा केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों की तैनाती की गई है। शोभा थाने पर भी सीआरपीएफ की तैनाती की गई है। इस इलाके में नए थाने खोले गए है। सुरक्षा बलों की स्वीकृत संख्या के मुताबिक वहां पर तैनाती के प्रयास किए जा रहे है। डा.सिंह ने कहा कि यह पूरा इलाका नक्सल प्रभावित भी है। इसलिए सुरक्षा बलों को हीरा भंडारों की सुरक्षा के साथ ही नक्सली समस्या के उन्मूलन का भी कार्य करना है। उन्होंने कहा कि सरकार इन भंडारों की सुरक्षा के लिए कटिबद्व है। यह देश की सम्पत्ति है।

 

उन्होंने कहा कि मैनपुर एवं देवभोग क्षेत्र के 4600 वर्ग किमी पर स्वीकृत पूर्वेक्षण अनुज्ञप्ति राज्य शासन द्वारा निरस्त किए जाने को लेकर प्रकरण छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय में विचाराधीन है इसलिए कब तक यहां किम्बरलाइट का उत्खनन होगा कहना मुश्किल है। भाजपा सदस्य देवजी पटेल ने कहा कि केन्द्रीय बल वहां गश्त नही कर रहे है इस ओर सरकार को ध्यान देना चाहिए।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You