हेरोइन रखने के जुर्म में विधवा को 11 साल जेल की सजा

  • हेरोइन रखने के जुर्म में विधवा को 11 साल जेल की सजा
You Are HereNational
Monday, February 24, 2014-8:46 PM
नई दिल्ली : दिल्ली की एक अदालत ने 300 ग्राम हेरोइन रखने के जुर्म में 38 साल की एक विधवा को 11 साल की जेल की सजा सुनायी है । दोषी करार दी गयी महिला दो बच्चों की मां है । 
 
कांता नाम की महिला को एनडीपीएस कानून के तहत दोषी करार देने वाले विशेष न्यायाधीश शैल जैन ने उस पर एक लाख रूपए का जुर्माना भी लगाया । अदालत ने कहा, ‘‘आरोपी को एनडीपीएस कानून, 1985 की धारा 21 के तहत दंडात्मक अपराध करने का दोषी करार दिया जाता है ।’’
   
कांता के पास से निर्धारित वाणिज्यिक मात्रा से ज्यादा मात्रा में हेरोइन बरामद किया था । लिहाजा, उसे 11 साल की सजा सुनायी गयी और एक लाख रूपए का जुर्माना लगाया गया । पुलिस ने 8 जुलाई 2012 को कांता को गिरफ्तार किया था । उसके पास से 300 ग्राम हेरोइन बरामद किया गया था । 
 
मुकदमे की सुनवाई के दौरान कांता ने दावा किया था कि उसे इस मामले में फंसाया गया है । कांता ने अदालत को बताया था, ‘‘मेरे कब्जे से कुछ भी बरामद नहीं हुआ था । घटना के दिन मैं अपने घर में कपड़े साफ कर रही थी कि तभी दो लोग आए और मुझे बताया कि मेरे भाई को एक मामले में फंसा दिया गया है । फिर मैं पुलिस स्टेशन गयी । बाद में इस मामले में मुझे फंसा दिया गया ।’’ बहरहाल, न्यायाधीश ने कांता के दावों को खारिज कर दिया । 
 

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You