कुछ इस तरह के कोड वर्ड का प्रयोग करता था भटकल

  • कुछ इस तरह के कोड वर्ड का प्रयोग करता था भटकल
You Are HereNational
Monday, February 24, 2014-10:46 PM

नई दिल्ली: इंडियन मुजाहिद्दीन का सह संस्थापक यासीन भटकल आईएम के अन्य संचालकों के साथ बातचीत में तालिबान के लिए ‘‘टेक’’, आईएसआई के लिए ‘‘एजेंसी’’ और ‘‘वोडा’’, दिल्ली के लिए ‘‘शाम’’, पाकिस्तान में भटकल के सुल्तान के लिए ‘‘मुल्ला या पंडित’’ और एके 47 राइफल के लिए ‘‘आरक्षण’’ जैसे कूट शब्दों का इस्तेमाल करता था।

राष्ट्रीय जांच एजेंसी ने यहां की एक अदालत को बताया कि आईएम के संचालकों से बात करने के लिए भटकल ‘‘गुप्त कोड वाली भाषा’’ का इस्तेमाल करता था ताकि वे एक-दूसरे को आसानी से समझ सकें जिसमें उसका नाम ‘‘टीबी’’, ‘‘जेजे’’ और ‘‘मुस्तफा’’ होता था। एनआईए ने अपने आरोपपत्र में कहा है कि भटकल एवं अन्य आरोपियों के इंटरनेट चैट अकाउंट से पता चलता है कि वे छद्म सर्वर का इस्तेमाल कर फर्जी नाम से चैट अकाउंट बनाते थे ताकि अपने पहचान एवं स्थान को छिपा सकें।


विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मैट्रीमोनी में  निःशुल्क  रजिस्टर  करें !

Recommended For You