2011 बम विस्फोट मामला: भटकल और असदुल्ला अख्तर ने करवाए बयान दर्ज

  • 2011 बम विस्फोट मामला: भटकल और असदुल्ला अख्तर ने करवाए बयान दर्ज
You Are HereNational
Tuesday, February 25, 2014-8:44 AM

मुंबई: इंडियन मुजाहिद्दीन के आतंकवादी यासीन भटकल और असदुल्ला अख्तर उर्फ तबरेज ने कठोर मकोका कानून के तहत अपने स्वीकारोक्ति बयान दर्ज करवाए। दोनों 2011 बम विस्फोट मामलों में आरोपी हैं। पुलिस ने बताया कि अलग-अलग दिए गए उनके बयानों को दो पुलिस उपायुक्तों ने दर्ज किया।
 
पुलिस के एक सूत्र ने पीटीआई को बताया, ‘‘भटकल एवं अख्तर, दोनों ने अपने स्वीकारोक्ति बयान महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण कानून (मकोका) 1999 की धारा 18:3: के तहत दर्ज करवाए।’’
  
प्रक्रिया के तहत अधिकारियों ने आरोपियों से पूछा कि क्या वे स्वीकारोक्ति बयान देना चाहते हैं। उनकी मंजूरी मिलने के बाद अधिकारियों ने उनके बयान दर्ज कर लिए।

भटकल एवं उसके सहयोगी तबरेज 13 जुलाई 2011 को हुए आतंकी हमले के प्रमुख आरोप हैं। मुंबई के भीड़ भरे इलाकों में तीन शक्तिशाली विस्फोट हुए थे जिनमें कम से कम 21 लोग मारे गए थे एवं 141 घायल हो गए। ये विस्फोट झावेरी बाजार, ओपेरा हाउस एवं दादर (पश्चिम) क्षेत्रों में हुए थे। इस मामले में रियाज भटकल, वकास इब्राहिम साद, मुजफ्फर कोलाह एवं तहसीन अख्तर शेख वांछित हैं।
 

यहाँ आप निःशुल्क रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, भारत मॅट्रिमोनी के लिए!

Recommended For You